Breaking News






Home / Breaking News / राजस्थान: इंजीनियर के घर छापा, 30 किलो सोना व पांच लग्जरी कारें बरामद, तीन लॉकर खोलने बाकी

राजस्थान: इंजीनियर के घर छापा, 30 किलो सोना व पांच लग्जरी कारें बरामद, तीन लॉकर खोलने बाकी

(रफतार न्यूज ब्यूरो)ः राजस्थान में भ्रष्ट अधिकारियों के लिए एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) का अभियान लगातार जारी है। एसीबी की टीम ने जयपुर, जोधपुर और चित्तौड़गढ़ में तीन अफसरों के 14 ठिकानों पर एक साथ छापे मारे। इस दौरान टीम के हाथ इतना अकूत खजाना लगा कि हर किसी की आंखें चौंधियां गईं। दरअसल, एक अधिकारी के घर से तो उसकी आय से 1450 फीसदी ज्यादा संपत्ति बरामद हुई।

जानकारी के मुताबिक, एसीबी की टीम ने सबसे पहले जयपुर विकास प्राधिकरण (जेडीए) के इंजीनियर निर्मल गोयल के घर कार्रवाई की। यहां आय से 1450 फीसदी ज्यादा संपत्ति मिली। इनमें 30 किलो सोना, पांच लग्जरी गाड़ियां, जयपुर की पॉश कॉलोनी में चार घर, फार्महाउस, 3.87 लाख नगद और 245 यूरो शामिल हैं। इनके अलावा तीन बैंकों में लॉकर अभी खोले जाने बाकी हैं।

बताया जा रहा है कि एसीबी की टीम ने चित्तौड़गढ़ में जिला परिवहन अधिकारी मनीष शर्मा के घर पर भी कार्रवाई की। यहां टीम के बाद करीब दो करोड़ रुपये के निवेश के कागजात मिले। इसके अलावा एक लाख रुपये नगद, विदेश यात्राओं के दस्तावेज, महंगी बाइक और गाड़ियां भी बरामद किए गए।

एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने जोधपुर में इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा के घर पर छापा मारा। जांच के दौरान जोधपुर, भोपाल और बीकानेर में चार जगह साढ़े चार करोड़ के निवेश की जानकारी मिली। यह संपत्ति इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा की आय से 333 फीसदी ज्यादा है। सूरसागर थाने में तैनात इंस्पेक्टर के पास जोधपुर में जमीन, भोपाल में 10 बीघा जमीन, स्कूल के अलावा तीन बसें मिली हैं।

गौरतलब है कि राजस्थान में कई दिनों से एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम कार्रवाई कर रही है। पिछले सप्ताह एसीबी की टीम ने जयपुर में लेबर कमिश्नर प्रतीक जागड़िया को तीन लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था। वहीं, भरतपुर पुलिस अधिकारी निरीक्षक सुरेंद्र सिंह को भी डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में पकड़ा गया था।

 

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share