Breaking News






Home / Breaking News / राजस्थान पंचायतीराज चुनाव: जानें कब तक होगी घोषणा और क्या हैं जमीनी हालात

राजस्थान पंचायतीराज चुनाव: जानें कब तक होगी घोषणा और क्या हैं जमीनी हालात

जयपुर (रफतार न्यूज ब्यूरो)ः राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रदेश के शेष रहे 12 जिलों के जिला परिषद-पंचायत समिति के चुनाव (Rajasthan Panchayati Raj Election) कराने की तैयारियां तेज कर दी है. राजस्थान में गहलोत और पायलट के बीच चली चल रही तनातनी के बीच अब प्रदेश का राजनीतिक परिदृश्य (Political Scenario) पूरी तरह बदल गया है. अब यह तय माना जा रहा है कि अगस्त के पहले सप्ताह में या फिर सितंबर में 12 जिलों का पंचायतराज चुनाव का कार्यक्रम जारी हो सकता है. ग्रामीण एवं पंचायती राज विभाग ने राज्य निर्वाचन आयोग की चिट्ठी के बाद प्रदेश के संबंधित जिला कलेक्टर्स को 25 जून तक पुनः आरक्षण की लॉटरी निकालने के निर्देश दिए थे. विभाग के निर्देश के बाद जिलों में पंचायतराज चुनावों से जुड़े कामकाज को काफी हद तक पूरा कर लिा गया है.

माना जा रहा है कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रहे सियासी घमासान के कारण बदले सियासी हालात में राज्य सरकार इन 12 जिलों में पंचायत चुनाव कराने का विरोध नहीं करेगी. अभी तक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा कोरोना की वजह से पंचायत चुनाव का कराने का विरोध करते रहे हैं. लेकिन अब प्रदेश का राजनीतिक परिदृश्य बदल गया है. कोरोना केस भी कम हो रहे हैं. मुख्यमंत्री 2 महीने के लिए सियासी क्वारंटाइन है. इस पूरी कवायद को मंत्रिमंडल विस्तार से जोड़कर देखा जा रहा है.

राज्य के अलवर, करौली, कोटा, सवाई माधोपुर, बारां, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, जोधपुर, सिरोही और श्रीगंगानगर के जिला परिषद एवं पंचायती समिति सदस्यों के चुनाव कराये जाने हैं. पहले परिसीमन और अन्य कानूनी पचड़ों के कारण इनके चुनाव अटके हुये थे. उसके बाद कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर आ जाने के कारण चुनाव प्रक्रिया अटक बीच में ही अटक गई थी. इन एक दर्जन जिलों में लोग बेहद उत्सुकता के साथ इन चुनावों का इंतजार कर रहे हैं. इन जिलों में पंचायती राज संस्थाओं का कामकाज प्रशासक संभाल रहे हैं. चुनाव के अभाव में ग्रामीण इलाकों में काफी काम अटका हुआ है.

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share