Breaking News






Home / Breaking News / हरियाणा: चार माह से लापता किसान बिजेंद्र को लेकर प्रदर्शन, जींद-चंडीगढ़ मार्ग बंद करने की चेतावनी

हरियाणा: चार माह से लापता किसान बिजेंद्र को लेकर प्रदर्शन, जींद-चंडीगढ़ मार्ग बंद करने की चेतावनी

(रफतार न्यूज ब्यूरो)ः किसान आंदोलन में भाग लेने 26 जनवरी को दिल्ली गया कंडेला गांव का 27 वर्षीय बिजेंद्र आज तक लौटकर नहीं आया। चार महीने से बिजेंद्र का कोई अता-पता नहीं होने से उसकी मां चिंतित है। हर समय भरी आंखों से अपने बेटे की राह देखती रहती है। इसको लेकर कंडेला गांव के काफी लोग शुक्रवार को डीसी डॉ. आदित्य दहिया से मिलने पहुंचे।

ग्रामीणों ने कहा कि प्रशासन दिल्ली पुलिस से बिजेंद्र का पता करवाए। यदि 18 जून तक बिजेंद्र का पता नहीं चला तो 19 जून से कंडेला गांव में जींद-चंडीगढ़ मार्ग को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया जाएगा। बिजेंद्र की मां ने कहा कि यदि बेटा एक दिन भी घर नहीं आए तो क्या गुजरती है, लेकिन उनका बेटा तो चार महीने से नहीं आया है। डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने कहा कि वे हौसला रखें। सब ठीक हो जाएगा।

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता छज्जूराम कंडेला ने बताया कि 26 जनवरी के आंदोलन के लिए गांव से सैकड़ों लोग दिल्ली गए थे। उनमें बिजेंद्र भी शामिल था। साथ गए लोगों ने बताया कि पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के समय वह उनके साथ था। इसके बाद मची भगदड़ के बाद से ही उसका सुराग नहीं लग रहा है। छज्जूराम कंडेला ने बताया कि बिजेंद्र के पिता का करीब 15 साल पहले निधन हो चुका है। बिजेंद्र अपनी मां का सहारा था और खेती करता था। बिजेंद्र के नहीं आने से उसकी मां संतोष हर समय परेशान रहती है। लोगों ने प्रशासन से मांग की है कि अपने स्तर पर बिजेंद्र का पता करें।

इस दौरान कंडेला खाप के पूर्व प्रधान ओमप्रकाश के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ केंद्रीय गृहमंत्री व प्रदेश के गृहमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया। ओमप्रकाश ने कहा कि चार महीने में कई बार प्रशासन से मिल चुके हैं लेकिन कोई जानकारी उन्हें नहीं मिली है। ज्ञापन देने आए लोगों के बीच में डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने कहा कि बिजेंद्र किसान का बेटा है और इस नाते वह उनका भाई है। परिजनों व ग्रामीणों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। वे दिल्ली पुलिस से संपर्क कर जल्द से जल्द बिजेंद्र का पता लगाएंगे। इस दौरान डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने पॉर्च में आकर ग्रामीणों का ज्ञापन लिया और कुछ लोगों को साथ ले गए। इन लोगों की जींद के एसएसपी वसीम अकरम के साथ बातचीत करवाई। उन्होंने कहा कि वे पुलिस के स्तर पर हर संभव मदद करेंगे।

 

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share