Breaking News








Home / Breaking News / Sagar Murder Case: सुशील को दिल्‍ली की तीन लोकेशन पर लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच, बार-बार बयान बदलना बना चुनौती

Sagar Murder Case: सुशील को दिल्‍ली की तीन लोकेशन पर लेकर पहुंची क्राइम ब्रांच, बार-बार बयान बदलना बना चुनौती

नई दिल्‍ली (रफतार न्यूज ब्यूरो)ः देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ की हत्या (Sagar Murder Case) के मामले में गिरफ्तार ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उनके साथी अजय बक्‍करवाला से दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच पूछताछ कर रही है. इस बीच इस मामले को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है. दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, क्राइम ब्रांच की टीम सुशील कुमार और अजय को सुबह छत्रसाल स्टेडियम, मॉडल टाउन और फिर पहलवान को उनके घर लेकर गई थी. दिल्ली पुलिस की टीम ये जानना चाहती है कि आखिर उस रात क्या हुआ था और क्या सुशील कुमार के संबंध गैंगस्टर से हैं?

यही नहीं, दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, क्राइम ब्रांच यह भी जानना चाहती है कि फरारी के दौरान सुशील कुमार की किस-किस शख्स ने मदद की और वह कहां-कहां गया था. बता दें कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम पहलवान सुशील कुमार के केस को टेकओवर करने के बाद अब एक्शन में आ गई है. सोमवार को नार्थ वेस्ट जिला अंतर्गत मॉडल टाउन थाना से पहलवान सागर धनखड़ की हत्या मामले की गंभीरता को देखते हुए इस केस को क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर किया गया था. पूर्वी दिल्ली स्थित शकरपुर क्राइम ब्रांच की टीम अब इस मामले की तफ्तीश कर रही है.

इससे पहले दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की पूछताछ में सुशील कुमार ने बताया कि वह पहलवान सागर धनखड़ को सिर्फ डराना चाहता था, इसलिए पिटाई की थी. यही नहीं, हथियार भी इसीलिए लाए गए थे और इस पूरी घटना का वीडियो खौफ पैदा करने के लिए बनवाया गया था. हालांकि सागर को मारने का कोई इरादा नहीं था, लेकिन जब उसकी मौत की सूचना मिली तो मैं भाग गया और 18 दिन तक गायब रहा. इसके बाद दिल्‍ली लौटा.

दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम इन लोकेशन पर लगातार सुशील से उस घटना की जानकारी लेती रही और यह जानने की कोशिश करती रही कि उस दिन सुशील के साथ और कौन-कौन मौके पर मौजूद था. दिल्ली पुलिस के पास जो वीडियो एविडेंस आए हैं जिसमे सुशील खुद डंडे मारते हुए नजर आ रहे हैं, उस वीडियो को भी दिल्ली पुलिस ने वहां पर वेरीफाई करने की कोशिश की. हालांकि इस मामले में एक अन्य आरोपी प्रिंस के द्वारा पुलिस को ये जानकारी मिली थी कि सुशील कुमार के कहने पर ही उस वीडियो को बनाया गया था, जिससे अन्य पहलवानों और स्थानीय लोगों के बीच सुशील कुमार अपना वर्चस्व कायम रखने के लिए और उन लोगों के बीच खौफ बनाने के लिए बनवाया था.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सुशील कुमार ने गिरफ्तारी के बाद पूछताछ और तफ़्तीश के दौरान दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के छत्रसाल स्टेडियम में होने की बात तो कबूली और ये कहा कि यहां पर दो गुटों का झगड़ा हो रहा था और मैं बीच-बचाव करने के लिए यहां पहुंचा था, लेकिन सुशील ने मॉडल टाउन के फ्लैट से सागर धनखड़ और सोनू को लाने की बात कबूल नहीं की. पुलिस के सूत्रों के अनुसार, जब पुलिस इन जगहों पर सुशील से पूछताछ कर रही थी उस दौरान सुशील कई बार नर्वस हो रहा था और बार-बार अपने बयान बदल रहा था. फिलहाल सुशील और अजय को लेकर दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम वापस शकरपुर क्राइम ब्रांच ऑफिस आ गई और सुशील से लगातार पूछताछ जारी है.

About admin

Check Also

लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक किया

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरसराय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share