Breaking News






Home / Breaking News / Corona: मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए नहीं मिल रही जगह, Delhi High Court ने जारी किया नोटिस

Corona: मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए नहीं मिल रही जगह, Delhi High Court ने जारी किया नोटिस

नई दिल्ली (रफतार न्यूज ब्यूरो)ःदिल्ली (Delhi) में कोरोना (Coronavirus) महामारी का प्रकोप बढ़ने की वजह से मरने वालों की संख्या में बेतहाशा बढ़ोतरी हो गई है. इसके चलते दिल्ली में कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए लोगों को जगह भी नहीं मिल पा रही है. जानकारी के मुताबिक कोरोना से मरने वाले अपने परिजनों के अंतिम संस्कार के लिए लोगों को श्मसान घाटों और कब्रिस्तानों में जगह नहीं मिल पा रही है. कई जगह तो मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए 2-3 दिन लग रहे हैं. इस स्थिति को चिंताजनक बताते हुए दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में एक याचिका दायर की गई है.

याचिका में मांग की गई है कि दिल्ली (Delhi) सरकार और तीनों नगर निगमों को आदेश दिया जाए कि शहर में मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए जगह बढाई जाएं. हाई कोर्ट (Delhi High Court) ने याचिका का संज्ञान लेते हुए सभी पक्षों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है बताते चलें कि दिल्ली में कोरोना महामारी अपने चरम पर चल रही है. हालत ये है कि शहर में सभी अस्पतालों में बेड फुल हैं और लोगों को सिफारिशों के बावजूद किसी अस्पताल में दाखिला नहीं मिल रहा.

ऑक्सीजन की किल्लत ने दिल्ली (Delhi) में हालात और खराब कर दिए हैं. दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से अब तक दर्जनों मरीज दम तोड़ चुके हैं. वहीं रेमडेसिविर इंजेक्शन की भी काफी कमी चल रही है. इसके चलते दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या दिनोंदिन बढ़ती जा रही है. इसी बीच दिल्ली (Delhi) में ऑक्सीजन की किल्लत पर दायर एक याचिका का हाई कोर्ट (Delhi High Court) पहले ही संज्ञान ले चुका है. उस पर अब अदालत की दूसरी पीठ सुनवाई कर रही है. कोर्ट के नोटिस पर दिल्ली सरकार ने कहा है कि उसने दिल्ली में ऑक्सीजन सप्लाई और इलाज में सहयोग के लिए सेना की मदद मांगी है. इस संबंध में रक्षा मंत्रालय को पत्र भी भेजा गया है.

अमेरिकी विदेश विभाग ने अपने बयान में कहा कि मुलाकात के दौरान टीकाकरण क्षमताओं को विस्तार देने में वैश्विक स्तर पर गठजोड़ के तरीकों पर चर्चा हुई. ब्लिंकन ने संक्षिप्त टिप्पणी करते हुए कोविड-19 संकट के दौरान अमेरिका के लिए भारत के सहयोग का जिक्र किया. उन्होंने कहा, ‘हमें अच्छी तरह याद है कि कोविड-19 के शुरुआती दिनों में भारत कितनी मजबूती से हमारी सहायता के लिए आगे आया था.’ ब्लिंकन ने कहा, ‘‘हम कोविड-19 महामारी से मिलकर लड़ रहे हैं और हर संभव मदद करने के लिए तैयार हैं.’

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share