Breaking News






Home / देश / नासिक के अस्पताल में ऑक्सीजन लीक हादसा को PM मोदी ने बताया हृदय विदारक, 22 मरीजों की हुई है मौत

नासिक के अस्पताल में ऑक्सीजन लीक हादसा को PM मोदी ने बताया हृदय विदारक, 22 मरीजों की हुई है मौत

(रफतार न्यूज ब्यूरो) -महाराष्ट्र के नासिक में बुधवार को एक अस्पताल में उस वक्त भारी अफरा-तफरी मच गई जब ऑक्सजीन लीक होने की खबर सामने आई. इस हादसा में अस्पताल में भर्ती 22 मरीजों की मौत हो गई. यह घटना वहां के जाकिर हुसैन अस्पताल में हुई है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से पीड़ितों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये देने का ऐलान किया गया है. इसके साथ ही, नासिक घटना को लेकर उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

झकझोर देने वाला इस घटना पर देश के राजनेताओं ने दुख व्यक्त करते हुए पीड़ित परिवारों के प्रति सांत्वना जताई है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए इस हृदय विदारक करार दिया. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा- “नासिक के एक अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक के चलते जो घटना हुई वह हृदय विदारक है. लोगों की मौत को लेकर दुख है. इस दुख की घड़ी में पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना है.” इधर, गृह मंत्री अमित शाह ने हादसा पर गहरी संवेदना व्यक्त की. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा- “नासिक के एक अस्पताल में ऑक्सीजन लीक होने से हुई दुर्घटना का समाचार सुन व्यथित हूं. इस हादसे में जिन लोगों ने अपनों को खोया है उनकी इस अपूरणीय क्षति पर अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं. बाकी सभी मरीजों की कुशलता के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं.”

नासिक में ऑक्सीजन लीक की घटना को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अत्यंत दुखद करार दिया. उन्होंने ट्वीट करते हुए इस घटना को लेकर कहा- नासिक के जाकिर हुसैन अस्पताल में मरीजों की मौत की घटना अत्यंत दुखद है. मेरी सांत्वना पीड़ित परिवार के प्रति है. मैं राज्य सरकारों और पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे हरसंभव सहायता करें. महाराष्ट्र के एफडीए मंत्री राजेंद्र शिंगने ने कहा कि हम विस्तृत रिपोर्ट के इंतजार में हैं. हमने जांच के आदेश दे दिए हैं. जो लोग दोषी होंगे, उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा. नासिक के कमिश्नर के मुताबिक, अस्पताल में 150 मरीज भर्ती थे. इनमें से 23 वेंटिलेटर पर थे जबकि अन्य लोग ऑक्सीजन पर थे. ऐसा कहा जा रहा है हॉस्पिटल में ऑक्सीजन फीलिंग करते हुए ऑक्सीजन लीक हो गया.

फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुंचकर ऑक्सीजन वॉल्व बंद किया. पाइप लाइन की लीकेज की वजह से सीरियस पेशेंट्स को दूसरे हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है. महाराष्ट्र के मंत्री राजेश टोपे ने कहा- यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. मैंने नासिक के म्युनिसिपल कमिश्नर से बात की, जिन्होंने बताया कि स्थिति अब नियंत्रण में है. मैं जल्द नासिक जाऊंगा. नासिक गार्डिंग मंत्री छगन भुजबल पहले ही वहां पर जा चुके हैं.   ऑक्सीजन लीकेज को लेकर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि नासिक में टैंकर के वाल्व के रिसाव के कारण बड़े पैमाने पर ऑक्सीजन का रिसाव हुआ है. अस्पताल पर निश्चित रूप से इसका असर पड़ने वाला था.

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share