Breaking News








Home / Breaking News / खेल मंत्री राणा सोढी की तरफ से ‘पंजाब का मान’  प्रोग्राम के दूसरे पड़ाव की शुरूआत

खेल मंत्री राणा सोढी की तरफ से ‘पंजाब का मान’  प्रोग्राम के दूसरे पड़ाव की शुरूआत

पंजाब सरकार और यूनीसेफ (युवाह) की तरफ से सांझे तौर पर तैयार ‘वाइसिज़ आफ युवाह’ रिपोर्ट की जारी
चंडीगढ़, 5 अप्रैल ( रफ़्तार न्यूज़ ब्यूरो):  पंजाब के खेल और युवा सेवाओं संबंधी मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने आज यहाँ ‘पंजाब का मान’ प्रोग्राम के दूसरे पड़ाव की शुरुआत की और पंजाब सरकार और यूनीसेफ (युवाह) की तरफ से सांझे तौर पर तैयार की ‘वाइसिज़ आफ युवाह’ रिपोर्ट भी जारी की।
खेल विभाग के प्रमुख सचिव श्री अनुराग वर्मा और डायरैक्टर श्री डी.पी.एस. खरबन्दा समेत आनलाइन प्रोग्राम में शामिल होते हुये राणा सोढी ने बताया कि ‘पंजाब का मान’ प्रोग्राम पंजाब सरकार और यूनीसेफ (युवाह) की सांझी पहलकदमी है और इसके पहले पड़ाव की शुरुआत मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से अगस्त 2020 में की गई थी। उन्होंने कहा कि दूसरे पड़ाव के अंतर्गत पंजाब का मान प्रोग्राम का उद्देश्य राज्य के नौजवानों को रोजगार सम्बन्धी मार्गदर्शन, कौशल प्रशिक्षण, उद्यमशीलता कौशल और नौकरियों तक पहुँच प्रदान करना है।
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नौजवान संगठनों, सरकारी संस्थाओं, कारोबारी हिस्सेदारों, प्रौद्यौगिकी कंपनियों और बहुपक्षीय संस्थाओं को शामिल करते हुये पंजाब का मान प्रोग्राम का उद्देश्य राज्य के 22 जिलों में कम से कम 1,00,000 नौजवानों को रोजगार के मौकों, 21वीं सदी के उचित कौशल और नागरिक केन्द्रित फैसले लेने की संभावनाओं के साथ जोड़ना है। पंजाब सरकार और एन.जी.ओ. हिस्सेदारों के साथ सांझेदारी के तौर पर युवाह संस्था राज्य में नागरिक व्यस्तताओं के लिए प्रोग्राम बना रही है जिसका उद्देश्य 21वीं सदी की जरूरी हुनर जैसे आलोचनात्मक सोच, समस्या का हल, विचारों का अदान-प्रदान, डाटा निरधारण, समाधान के लिए अलग-अलग कदम उठाना और तबदीली लाने और फैसला लेने के समर्थ बनाना और स्थानीय नेताओं के तौर पर स्थापित करना है।
अपने संबोधन के दौरान राणा सोढी ने कहा, ‘हम नौजवानों को सामाजिक वर्गों के साथ जोड़ने, तकनीकी शिक्षा के साथ जोड़ने, उनको हुनरमंद बनाने और बढ़िया रोजगार के योग्य बनाने के लिए उनके साथ कंधे से कंधा लगा कर खड़े हैं। हम नौजवानों को समर्थ बनाने के प्रति वचनबद्ध हैं क्योंकि यही हमारा भविष्य हैं। नोडल विभाग होने के नाते खेल और युवा सेवाएं विभाग इस प्रोग्राम को सफल बनाने के लिए यूनीसेफ और हिस्सेदारों के साथ काम करने के लिए तैयार है।
इससे पहले युवाह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अभिषेक गुप्ता ने बताया कि बड़े स्तर पर बनायी गई यू-रिपोर्ट चयन में 28,000 से अधिक नौजवानों की शिक्षा, कौशल और रोजगार तक पहुँच संबंधी पोल का मूल्यांकण किया गया है, जो हिस्सेदारी की तरफ से जारी की गई ‘वाइसिज़ आफ युवाह’ का हिस्सा हैं। इन जानकारियों के आधार पर पंजाब का मान प्रोग्राम कौशल, पेशे के मार्गदर्शन और रोजगार को नौजवानों के साथ जोड़ने के लिए पेश करेगा जिससे नौजवानों की इच्छाओं की पूर्ति में सहायता की जा सके।
इसके उपरांत पैनल विचार-विमर्श भी किया गया जिसमें सरकारी स्कीमों को पंजाब के नौजवानों की जरूरतों के मुताबिक बनाने, उनके उद्यमों में मददगार बनाने और रोजगार प्रमुख बनाने संबंधी विचार किया गया। इस मौके पर खेल विभाग के संयुक्त डायरैक्टर श्री करतार सिंह और गवर्नेंस फेलो तपिन्दर कौर घूम्मण भी मौजूद थे।

About admin

Check Also

लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक किया

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरसराय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share