Breaking News








Home / देश / संत श्री आशाराम जी बापू के प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट में लिखित तर्क पेश

संत श्री आशाराम जी बापू के प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट में लिखित तर्क पेश

 

छिन्दवाड़ा( भगवानदीन साहू)- के नेतृत्व में कई धार्मिक एवं सामाजिक सामाजिक संगठनों ने 27 नवम्बर 2020 को जिला कलेक्टर के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री एवं मुख्य न्यायाधीश सुप्रीम कोर्ट के नाम ज्ञापन प्रेषित किया था । जिसका विषय :- ” न्याय सिद्धांतों का दुरुपयोग रोकने बाबद ” था , जिस पर माननीय सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लेकर श्री साहू को सूचना दी । जिसका प्रकरण कमांक 1289/ एस.सी.आई . / पी.आई.एल. 2021 हैं। ज्ञापन में बताया गया था कि देश की न्यायपालिका हिन्दू धर्मावलम्बी एवं हिन्दू सन्तों के साथ दुराग्रह रखती है। इसमें अर्नब गोस्वामी का मामला तथा देश की जेलों में बंद लाखों बेगुनाहों एवं संत श्री आशारामजी बापू के फर्जी प्रकरण का भी उल्लेख था । दिनॉक 18 जनवरी 2021 को इस संबंध में श्री साहू द्वारा स्वयं उपस्थित होकर लिखित तर्क पेश किये । जिसमें शपथ पत्र , मेडिकल रिपोर्ट जिसमें बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई , लड़की के मोबाइल की कॉल डिटेल जिसमें उस वक्त वह अपने पुरूष मित्र के साथ एक घंटे व्यस्त थी , पद्मश्री पुरुस्कार में चयनित होने के आदेश की प्रति , आरोप लगाने वाली लड़की का वास्तविक जन्म प्रमाण पत्र एवं 27 नवम्बर 2020 को दिया गया ज्ञापन की प्रति संलग्न हैं । साथ ही लिखित कथन में यह भी बताया कि सन 2015 में प्रधानमंत्री के आदेश पर मुख्य सचिव राजस्थान ने इस प्रकरण की सी.आई.डी. जांच करवाई थी जिसमें सी.आई.डी. ने संत आशारामजी बापू को निर्दोष बताया था । साथ ही सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का भी ज़िक्र था जिसमे जिसमें देश के 70 साल से अधिक आयु वाले जो लोग देश की जेलों में बंद हैं उन्हें शीघ्र रिहा करें , जमानत दें या पेरोल दें । वहीं पूज्य बापू जी की उम्र 86 वर्ष है। इस प्रकरण के कारण पूरे विश्व में भारतीय न्यायपालिका की बदनामी हो रही है और 44 करोड़ साधकों की आस्था और श्रध्दा के साथ खिलवाड़ हो रहा है। माननीय सुप्रीम कोर्ट ने लिखित तर्क स्वीकार कर रिसिप्ट प्रदान की , तथा अगली सुनवाई की तारीख का भरोसा दिलवाया । माननीय सुप्रीम कोर्ट की इस पहल से देश के करोड़ो – करोडो साधकों में तथा 90 करोड़ हिन्दू धर्मावलंबियों में खुशी का माहौल है। 17 नवम्बर को ज्ञापन देते समय साध्वी रेखा बहन , साध्वी प्रतिमा बहन , हरशूल रघुवंशी , शिक्षाविद विशाल चउत्रे , कुंबी समाज के युवा नेता अंकित ठाकरे , राष्ट्रीय बजरंग दल से नितेश साहू , पवार समाज के हेमराज पटले , युवा सेवा संघ के नितिन दोईफोड़े , ओमप्रकाश डेहरिया , गायत्री परिवार के ओमप्रकाश साहू , कलार समाज के सुजीत सूर्यवंशी , आई. टी. सेल के प्रभारी भूपेश पहाडे , अखिल भारतीय नारी रक्षा मंच से करूणेश पाल , छाया सूर्यवंशी , वनीता सनोड़िया , शकुंतला कराड़े , योगिता पराडकर मुख्य रूप से उपस्थित थे ।

About Sushil Parihar

Check Also

लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक किया

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरसराय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share