Monday , January 25 2021
Home / Breaking News / किसानों को कानूनी मदद देने के नाम पर आप ने किसानों की पीठ में छुरा मारा : अमरिन्दर
file photo

किसानों को कानूनी मदद देने के नाम पर आप ने किसानों की पीठ में छुरा मारा : अमरिन्दर

      चंडीगढ़ (रफ़्तार न्यूज़ ब्यूरो) : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने रविवार को आम आदमी पार्टी द्वारा अभिनेत्री कंगना रनौत और केंद्रीय मंत्री राओसाहेब दानवे समेत अन्य भाजपा नेताओं के खि़लाफ़ कानूनी केस लडऩे के खोखले दावे पर आप पर दोष लगाते हुए कहा कि उन्होंने एक बार फिर किसानों की पीठ में छुरा घौंपते हुए किसानों के साथ कपट किया है।
मीडिया रिपोर्टें कि ऐसे मामलों में पाँच पटीशनकर्ता में से चार आप के सक्रिय वर्कर हैं, पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब समय आ गया है कि अरविन्द केजरीवाल और उसकी टोली राजनैतिक लाभ कमाने के लिए ऐसी भद्दी चालें चलनी बंद करे। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘आपके इरादे स्पष्ट हैं। आप सिफऱ् किसानों के संघर्ष को कमज़ोर करने की कोशिश कर रहे हो और भाजपा के इशारे पर भद्दी चालें चल रहे हो।’’ उन्होंने कहा कि किसानों की जि़ंदगी और भविष्य के साथ जुड़े मामले पर आप द्वारा ऐसे ड्रामे खेले जाने बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बात है।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा, ‘‘अरविन्द केजरीवाल जैसा व्यक्ति हमेशा इस तरह ही करता आया है, परन्तु हैरानी की बात है कि उसकी पार्टी के अन्य नेता भी पंजाब के किसानों को धोखा देने के लिए लगातार झूठ बोल रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि बड़े दुख की बात है कि आप नेता इतने घटिया और निचले दर्जे पर उतर आए हैं और अपने पार्टी वर्करों द्वारा भाजपा नेता के खि़लाफ़ पटीशन दाखि़ल की जा रही हैं, जिससे उनकी पार्टी द्वारा किसानों को कानूनी सहायता देने के दावों की पुष्टि हो सके।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने केजरीवाल और उसके साथियों को सलाह दी कि वह एडोल्फ हिटलर की ‘बड़े झूठ’ बोलने की तकनीक को अपनाना बंद कर दें, जिसके अंतर्गत इतना झूठ बोलकर प्रचार किया जाये कि लोग इसको सत्य मान लें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस समय किसान राष्ट्रीय राजधानी की ओर कूच करने की तैयारी कर रहे थे, उस समय पर दिल्ली में ‘आप’ की सरकार द्वारा शर्मनाक ढंग से कृषि कानून लागू करने के बाद पूरा विश्व अब जान गया है कि भाजपा का असली एजेंट कौन है। उन्होंने कहा कि ‘आप’ की भाजपा के साथ मिलीभुगत अब जग ज़ाहिर हो गई है और कहा कि यह ऐसी अकेली घटना नहीं थी।
‘‘अरविन्द केजरीवाल सरकार केंद्र में अपने आकाओं को खुश रखने के लिए उनके आगे झुकी हुई है, क्योंकि यह स्वतंत्र और प्रभावशाली ढंग से शासन चलाने के काबिल नहीं है, जैसा कि हम सभी ने दिल्ली में कोविड के शिखर के समय देखा था।’’ उन्होंने कहा कि केजरीवाल द्वारा हर बार मदद के लिए केंद्र के आगे हाथ फैलाना केंद्र के साथ उनकी नज़दीकी स्पष्ट तौर पर ज़ाहिर हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘आखिऱकार संकट के समय आप मदद के लिए उनकी तरफ जाते हैं, जिनके साथ नज़दीकी हो न कि अपने राजनैतिक विरोधियों की तरफ।’’
मुख्यमंत्री ने कहा कि बार-बार झूठ बोलना इसको सत्य नहीं बना देता। कुछ आप नेताओं द्वारा पंजाब के कृषि कानून बनाने वाली कृषि सुधारों सम्बन्धी कमेटी का मैंबर होने संबंधी किये दावों का जि़क्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस तरह इन नेताओं ने अकालियों के स्टैंड को रटना शुरू किया है, ऐसे में हम इस निष्कर्ष पर पहुँचने के लिए मजबूर हैं कि दोनों पक्ष झूठों के आधार पर आपस में मिले हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस तथाकथित कमेटी ने कभी भी कृषि कानूनों के बारे में विचार-विमर्श नहीं किया। मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘वास्तव में, यहाँ ऐसे कानूनों के बारे में विचारने का बिल्कुल जि़क्र भी नहीं था।’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘क्या आप और अकाली दल के नेता के लिए यह समझना इतना मुश्किल है?’’
मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘आप’ के उलट जिसने कभी भी गंभीर प्रशासन में विश्वास नहीं किया और सिफऱ् निचले दर्जे की राजनीति और ड्रामों में व्यस्त रही है, पंजाब की कांग्रेस सरकार अपने लोगों की परवाह करती है और हमेशा उनके भले के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘हम अपने लोगों की जि़न्दगियों के साथ राजनीति नहीं करते।’’ उन्होंने कहा कि ‘आप’ का चेहरा पूरी तरह बेनकाब हो गया है और उनको यह समझ लेना चाहिए कि इस तरह के हत्थकंडे इस्तेमाल करके वह 2016-17 में भी पंजाब के लोग को भ्रमित करने में पूरी तरह नाकाम साबित हुए थे और अब भी उनका कोई बचाव नहीं होगा।

About admin

Check Also

पंजाब सरकार द्वारा राज्य स्तर पर विभिन्न क्षेत्रों में बेहतरीन काम करने के लिए 45 शख्सियतों की सूची जारी

चंडीगढ़ (रफ़्तार न्यूज़ ब्यूरो) पंजाब सरकार की तरफ से राज्य स्तर पर पंजाब सरकार प्रमाण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share