Breaking News






Home / देश / भारतीय बौध्द महासभा द्वारा मनाया डाॅ. अम्बेडकर जी का 64वां परिनिर्वान दिवस

भारतीय बौध्द महासभा द्वारा मनाया डाॅ. अम्बेडकर जी का 64वां परिनिर्वान दिवस

छिन्दवाड़ा(सुशील सिंह परिहार) – भारतीय बौध्द महासभा द्वारा स्थानीय डाॅ. अम्बेडकर तिराहे पर डाॅ. अम्बेडकर जी के 64वें परिनिर्वान दिवस समारोह का आयोजन किया। समारोह का संचालन जिला सचिव एड. राजेश सांगोडे द्वारा किया गया। डाॅ. अम्बेडकर जी श्र्रध्दांजली समारोह पर डाॅ. बाबा साहब अम्बेडकर जी की प्रतिमा एवं तथागत भगवान बुध्द के छायाचित्र पर माल्यार्पण पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल मेडिकल काॅलेज डीन डाॅ. गिरीश रामटेके, एडीसनल एस.पी. संजीव कुमार, भारतीय बौध्द महासभा प्रदेश सचिव. एड. रमेश लोखंडे, जिला सचिव एड. राजेश सांगोड़े, नगर अध्यक्ष संतोषी गजभिये, सीटीकोतवाली टी.आई. मनीष भदोरिया, ओ.बी.सी. महासभा राष्ट्रीय सचिव देवेन्द्र वर्मा, समाज सेविका निलीमा बागड़े, जनकल्याण समिति अध्यक्ष मनोहर राव नारनवरे, समाज सेविका ललिता सरवईया, राष्ट्रीय मजदूर सेना नगर अध्यक्ष अनिल गजभिये, महेन्द्र सोमकुवर, के.के. पाटील, सुभाष गजभिये, पदमाकर गजभिये, लीला नारनवरे, ममता सहारे, डाॅ. सोमकुवर, सुनीता निकोसे सहित कई पदाधिकारी एवं समाज सेवकों द्वारा माल्यार्पण किया तत्पश्चात सामूहिक बुध्द वंदना करायी गयी। इस अवसर पर प्रदेश सचिव रमेश लोखंडे द्वारा कहा कि डाॅ. बाबा साहब अम्बेडकर द्वारा सम्पूर्ण देश में सामाजिक समानता निर्माण करने हेतु सबसे लोकतांत्रिक संविधान दिया 14 अक्टूबर 1956 को विजयादशमी के अवसर पर नागपुर की पवित्र दिक्षाभूमि पर 5 लाख से अधिक उपासक, उपासिकाओं को बौध्द धर्म की दीक्षा दिलाकर अंधविश्वास से मुक्ति का मार्ग प्रशस्त किया। जो मानव कल्याण के लिए सम्पूर्ण विश्व के लिए आज भी आदर्श है। हमें भारतीय संविधान के प्रावधानों का अनिवार्य रूप से पालन करने की आवश्यकता बताई। धम्म दीक्षा के दो माह पश्चात 6 दिसम्बर 1956 को डाॅ. बाबा साहब अम्बेडकर जी का परिनिर्वान हुआ। जिससे सम्पूर्ण देश में एक सामाजिक क्रांति के मसीहा को खो दिया। डाॅ. बाबा साहब अम्बेडकर जी को उनके द्वारा बनायी गयी भारतीय बौध्द महासभा द्वारा विनम्र भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल द्वारा भारतीय संविधान को विश्व के संविधानों से श्रेष्ठ बताते हुये उनके आदर्शों पर चलना सच्ची श्रध्दांजली बताया। मेडिकल काॅलेज डीन डाॅ. रामटेके द्वारा तथागत भगवान बुध्द के विचारों पर चलकर विश्वशांति निर्माण की बात कहीं। समारोह के समापन पर भारतीय बौध्द महासभा की ओर से पुलिस अधीक्षक महोदय जी को प्रदेश सचिव एड़. रमेश लोखंडे, जिला सचिव एड़. राजेश सांगोड़े, अध्यक्ष मनोहरराव नारनवरे द्वारा डाॅ. बाबा साहब अम्बेडकर जी द्वारा लिखित बुध्द और उनका धम्म ग्रंथ भेंट किया।

About Sushil Parihar

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share