Breaking News






Home / दुनिया / पंजाब को अक्तूबर महीने के दौरान 1060.76 करोड़ का जी.एस.टी. राजस्व हासिल हुआ, पिछले साल की अपेक्षा 14.12 प्रतिशत इजाफ़ा

पंजाब को अक्तूबर महीने के दौरान 1060.76 करोड़ का जी.एस.टी. राजस्व हासिल हुआ, पिछले साल की अपेक्षा 14.12 प्रतिशत इजाफ़ा

चंडीगढ़ (पीतांबर शर्मा) : पंजाब का अक्तूबर 2020 महीने के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 1060.76 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल इसी महीने का कुल जी.एस.टी. राजस्व 929.52 करोड़ था, जोकि पिछले साल की अपेक्षा 14.12 प्रतिशत की वृद्धि दिखाता है।
कोविड-19 महामारी के चलते आर्थिक गतिविधियों की धीमी रफ़्तार के बाद चालू वित्तीय साल के पहले पाँच महीनों में जी.एस.टी. संग्रह में भारी गिरावट के उपरांत पिछले दो महीनों में आर्थिक सुधार के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं।
पंजाब के कराधान आयुक्त कार्यालय के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल से अक्तूबर 2020 के दौरान पंजाब का कुल जी.एस.टी. राजस्व 5746.48 करोड़ रुपए था जबकि पिछले साल इन छह महीनों के समय के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 7719.86 करोड़ रुपए था। इस तरह 25.56 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई है।
सरकारी प्रवक्ता ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि सितम्बर 2020 के महीने सुरक्षित राजस्व 2403 करोड़ है जिसमें से पंजाब राज्य ने 1060 करोड़ रुपए प्राप्त किये हैं, जोकि कुल सुरक्षित राजस्व का करीब 44 प्रतिशत बनता है। इस तरह अक्तूबर 2020 के महीने के लिए बकाया मुआवज़े की राशि 1343 करोड़ है जो कि अभी तक प्राप्त नहीं हुई। इसी तरह अप्रैल से सितम्बर 2020 के समय के दौरान मुआवज़े की रकम 10,843 करोड़ रुपए बनती है जोकि बाकाया पड़ी है।
सरकारी प्रवक्ता ने आगे बताया कि राष्ट्रीय सकल जी.एस.टी. राजस्व संग्रह अक्तूबर 2020 के महीने के दौरान 1,05,155 करोड़ रुपए है जबकि पिछले साल अक्तूबर 2019 के महीने के दौरान कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. का राजस्व 95,380 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ है। उन्होंने आगे बताया कि अप्रैल से अक्तूबर 2020 के समय के दौरान कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. राजस्व 5,59,746 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ जबकि इसी समय के दौरान पिछले साल 2019 में 7,01,673 करोड़ रुपए एकत्रित हुए थे। इस तरह इस साल पिछले साल की अपेक्षा 20.22 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई।
जी.एस.टी. के अलावा पंजाब राज्य को वैट और सी.एस.टी. से भी टैक्स/राजस्व प्राप्त होता है। वैट और सी.एस.टी. एकत्रित करने में प्रमुख योगदान करने वाले उत्पाद शराब और पाँच पैट्रोलियम उत्पाद हैं। अक्तूबर 2020 के महीने में वैट और सी.एस.टी. का संग्रह 536.33 करोड़ रुपए है, जबकि पिछले साल अक्तूबर 2019 के महीने के लिए यह संग्रह 447.17 करोड़ रुपए था। इस तरह इस साल पिछले साल के मुकाबले 21.14 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।
प्रवक्ता ने आगे बताया कि अप्रैल से अक्तूबर 2020 के लिए वैट और सी.एस.टी. सकल राजस्व 3037.67 करोड़ रुपए रहा है जोकि पिछले साल के इसी समय के दौरान कुल राजस्व 3176.64 करोड़ रुपए था, जोकि 3.97 प्रतिशत की गिरावट को दिखाता है।
जी.एस.टी., वैट और सी.एस.टी. को अगर एकसाथ पढ़ा जाये तो अक्तूबर 2020 के दौरान कर की वसूली 1597.09 करोड़ रुपए थी जबकि पिछले साल अक्तूबर 2019 के दौरान यही वसूली 1376.69 करोड़ रुपए थी। इस तरह सितम्बर महीने साल 2020 की वसूली बीते वर्ष की अपेक्षा 220.40 करोड़ रुपए (16 प्रतिशत) अधिक रही।
——–
पंजाब में जी.एस.टी. राजस्व संग्रहण का तुलनात्मक अध्ययन:-
महीना 2019
(राशि करोड़ों में) 2020
(राशि करोड़ों में)
अप्रैल 1304.13 156.28
मई 998.13 514.03
जून 950.36 869.66
जुलाई 1548.15 1103.31
अगस्त 1014.03 987.20
सितम्बर 974.96 1055.24
अक्तूबर 929.52 1060.76

About admin

Check Also

नवजोत सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नये प्रधान, 4 कार्यकारी प्रधान होंगे, रफतार न्यूज की ख़बर पर एक बार फिर से मोहर

दिल्ली, 18 जुलाई (रफतार न्यूज ब्यूरो)ः रफतार न्यूज की ख़बर पर एक बार फिर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share