Breaking News






Home / देश / लुधियाना टिब्बा रोड बेअदबी मामले में शिकायतकर्ता ही निकला दोषी ; सेवा सिंह ने कबूला कि केवल तुरंत लोकप्रियता के लिए किया था यह कृत्य

लुधियाना टिब्बा रोड बेअदबी मामले में शिकायतकर्ता ही निकला दोषी ; सेवा सिंह ने कबूला कि केवल तुरंत लोकप्रियता के लिए किया था यह कृत्य

चंडीगढ़ (पीतांबर शर्मा) : 2 नवंबर, 2020 को शाम के करीब 7 बजे एक दुर्भाग्यपूर्ण आपराधिक घटना घटी जब सेवा सिंह निवासी स्वतंत्र नगर, लुधियाना ने स्वतंत्र नगर गुरुद्वारा के प्रधान बलदेव सिंह को बताया कि उसने श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के कुछ फटे हुए अंग थाना टिब्बा लुधियाना के जन शक्ति नगर क्षेत्र में प्रेम विहार में एक धान के खेत में बिखरे पड़े देखे हैं। यह जानकारी मिलने पर पुलिस पार्टी ने तुरंत जवाबी कार्यवाही की और मौके पर पहुँच गई और सिंह सभा गुरूद्वारा स्वतंत्र नगर, लुधियाना के प्रधान बलदेव सिंह के बयानों पर एफ.आई.आर नं .178 आइपीसी की धारा 295-ए, 34 के अंतर्गत दर्ज की।
यह जानकारी देते हुए पंजाब पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि दोषी सेवा सिंह ने बलदेव सिंह को यह भी बताया था कि उसने दो मोटरसाईकल सवारों को मौके से भागते हुए देखा है। क्षेत्र में लगे सी.सी.टी.वी कैमरों की सीसीटीवी फुटेज को खंगालने के बाद यह पता चला कि उस समय उस क्षेत्र में किसी भी मोटरसाईकल का आना जाना नहीं हुआ है। इस प्रकार, श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी के फटे अंगों सम्बन्धी उसके अलग अलग दावों और बयानों ने शंका पैदा कर दी।
प्रवक्ता ने आगे बताया कि लुधियाना पुलिस की तरफ से की गई और पूछताछ के बाद सेवा सिंह ने कबूल किया कि उसने ख़ुद ही एक सैंची साहिब और गुटका साहिब के अंग मौके पर फाड़ कर फैंक दिए थे। उसके घर की तलाशी लेने पर असली सैंची साहिब और गुटका साहिब जिसके अंग सेवा सिंह ने फाड़े थे, को इलाके के निवासी गवाह की हाजिऱी में पुलिस ने बरामद कर लिया। उसके घर के बेसमैंट में से एक सूटकेस भी बरामद हुआ जिसमें एक पुराने गुटका साहिब के फाड़ दिए अंगों को रखा हुआ था। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के गुटका साहिब और सैंची साहिब के सभी फटे अंगों को स. बलदेव सिंह, प्रधान गुरुद्वारा साहिब, स्वतंत्र नगर की तरफ से पूरी मर्यादा, सत्कार के साथ संभाला गया।
प्रवक्ता ने आगे कहा कि प्राथमिक जांच से पता चला है कि सेवा सिंह एक व्हाट्सऐप ग्रुप गुरू नानक सेवा दल में शामिल हुआ था। वह पंजाब स्टार डेली, सच दियां तरंगां नाम के एक वैब चैनल के संपर्क में आया, जिसको बटाला के एक व्यक्ति द्वारा चलाया जा रहा था। व्हाट्सऐप ग्रुप के एक अन्य मैंबर, जो कि पंजाब स्टार डेली का कर्मचारी था, ने उसके साथ संपर्क किया और उसको अपने वैब चैनल के लिए खबरें और नयी नयी चीजें साझा करने के लिए प्रेरित किया। सेवा सिंह ने पंजाब स्टार को 3-4 खबरें भेजीं परन्तु ज़्यादातर खबरें न्यूज चैनल ने प्रकाशित नहीं कीं।
प्रवक्ता ने आगे बताया कि 2 नवंबर को, रातो-रात मशहूर होने के चक्कर में सेवा सिंह ने किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किये पापों को दिखाते, इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना को अंजाम देने का फ़ैसला किया और फिर पंजाब स्टार डेली पर इस घटना को उजागर करने वाला पहला व्यक्ति बनने की सोची। वह सैंची साहिब जी और गुटका साहिब जी के अंगों को अपने घर से लाया और उनको लुधियाना के टिब्बा के प्रेम नगर क्षेत्र में खेतों में बिखेर दिया। उसने एक पंजाब स्टार डेली वैब चैनल को भेजने के लिए अपने फ़ोन से एक वीडियो भी शूट किया।
अब तक की जांच और इसके बाद हुई बरामदगियों से पता चलता है कि सेवा सिंह ने अपने निजी मनोरथों की पूर्ति के लिए इस घटना को अंजाम दिया था और इस दुर्भाग्यपूर्ण केस की गुत्थी दोषी की गिरफ़्तारी के साथ सुलझ गई है। मौके पर पहुँची चंडीगढ़ की एक फोरेंसिक टीम ने बरामद की गई चीजों की फोरेंसिक जांच और  विश्लेषण किया। आगे की जांच जारी है।
उन्होंने आगे कहा कि शिरोमणि कमेटी की धर्म प्रचार कमेटी के साथ भी संपर्क स्थापित किया गया है और गुटका साहिब और सैंची साहिब को मर्यादा अनुसार सही हाथों में सौंपा गया है। पुलिस ने दोषी को अदालत में पेश किया और अगली जांच के लिए दो दिन का पुलिस रिमांड ले लिया है।

About admin

Check Also

नवजोत सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नये प्रधान, 4 कार्यकारी प्रधान होंगे, रफतार न्यूज की ख़बर पर एक बार फिर से मोहर

दिल्ली, 18 जुलाई (रफतार न्यूज ब्यूरो)ः रफतार न्यूज की ख़बर पर एक बार फिर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share