Wednesday , October 21 2020
Breaking News
Home / Breaking News / सितम्बर 2020 के दौरान पंजाब को कुल 1055.24 करोड़ का जी.एस.टी. राजस्व हासिल हुआ

सितम्बर 2020 के दौरान पंजाब को कुल 1055.24 करोड़ का जी.एस.टी. राजस्व हासिल हुआ

  चंडीगढ़ (पीतांबर शर्मा) : पंजाब का सितम्बर 2020 महीने के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 1055.24 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल इसी महीने का कुल जी.एस.टी. राजस्व 974.96 करोड़ था, जो कि इस साल 8.23 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है।
ध्यान देने योग्य है कि कोविड-19 के कारण करदाताओं को पिछले महीने की रिटर्न भरने के लिए राहत प्रदान की गई थी और पिछले साल 5 करोड़ से कम टर्न ओवर वाले करदाताओं को सितम्बर 2020 तक रिटर्न भरने में ढील दी गई है।
पंजाब के कर कमिश्नर दफ़्तर के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि अप्रैल से सितम्बर 2020 के दौरान पंजाब का कुल जी.एस.टी. राजस्व 4685.72 करोड़ रुपए था, जब कि पिछले साल इन छह महीनों के समय के दौरान कुल जी.एस.टी. राजस्व 6790.34 करोड़ रुपए था। इस तरह 31 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई है।
सरकारी प्रवक्ता ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि सितम्बर 2020 के महीने में संरक्षित राजस्व 2403 करोड़ है, जिसमें से पंजाब राज्य ने 1055.24 करोड़ रुपए प्राप्त किए हैं, जो कि कुल संरक्षित राजस्व का 43.91 प्रतिशत बनता है। इस तरह सितम्बर 2020 के महीने के लिए बकाया मुआवज़े की रकम 1347.76 करोड़ है, जो कि अभी तक प्राप्त नहीं हुआ है। इसी तरह अप्रैल से अगस्त 2020 के समय के दौरान मुआवज़े की रकम 10338 करोड़ रुपए है, जिसमें से 838 करोड़ रुपए अक्टूबर के पहले हफ्ते हासिल हुए और बाकी बचती 9500 करोड़ रुपए राशि का अभी इन्तज़ार है।
सरकारी प्रवक्ता ने आगे बताया कि राष्ट्रीय कुल जी.एस.टी. राजस्व संग्रह सितम्बर 2020 के महीने के दौरान 95,480 करोड़ रुपए है, जिसमें सी.जी.एस.टी. की 17,741 करोड़ रुपए, एस.जी.एस.टी. 23,131 करोड़ रुपए, आई.जी.एस.टी. 47,484 करोड़ रुपए (माल के आयात पर एकत्रित 22,442 करोड़ रुपए) और सैस 7124 करोड़ रुपए (माल के आयात पर एकत्रित 788 करोड़ रुपए) है, जबकि पिछले साल सितम्बर 2019 के महीने के दौरान कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. का राजस्व 91,916 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ, जिसमें से सी.जी.एस.टी. 16,630 करोड़ था, एस.जी.एस.टी. का 22,598 करोड़ और आई.जी.एस.टी. 45,069 करोड़ (सामान के आयात पर एकत्रित किए 22,097 करोड़) और सैस 7620 करोड़ (माल के आयात पर एकत्रित किए 728 करोड़) था।
उन्होंने आगे बताया कि सितम्बर 2020 के महीने के दौरान राष्ट्रीय कुल जी.एस.टी. राजस्व पिछले साल के इसी महीने के एकत्रित हुए जी.एस.टी. राजस्व की अपेक्षा 4 प्रतिशत ज़्यादा है। इसके अलावा आयात की गईं वस्तुएँ और घरेलू लेन-देन से कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. राजस्व पिछले साल इसी महीने के आंकड़ों से क्रमवार 102 प्रतिशत और 105 प्रतिशत रहा है।
अप्रैल से सितम्बर 2020 समय के दौरान कुल राष्ट्रीय जी.एस.टी. राजस्व 4,54,591 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ, जबकि इसी समय के दौरान पिछले साल 2019 में 6,06,293 करोड़ रुपए एकत्रित हुआ था। इस तरह इस साल पिछले साल की अपेक्षा 25 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई। जी.एस.टी. के अलावा पंजाब राज्य को वैट और सी.एस.टी. से भी टैक्स/राजस्व प्राप्त होता है। वैट और सी.एस.टी. एकत्रित करने में प्रमुख योगदान करने वाले उत्पाद शराब और पाँच पैट्रोलियम उत्पाद हैं। सितम्बर 2020 के महीने में वैट और सी.एस.टी. का संग्रह 462.98 करोड़ है, जबकि पिछले साल सितम्बर 2019 के महीने के लिए यह संग्रह 332.32 करोड़ था। इस तरह इस साल पिछले साल के मुकाबले 39.32 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
प्रवक्ता ने आगे बताया कि अप्रैल से सितम्बर 2020 के लिए वैट और सी.एस.टी. कुल राजस्व 2499.77 करोड़ रुपए रहा है, जो कि पिछले साल के इसी समय के दौरान कुल राजस्व 2729.47 करोड़ रुपए था, जो कि 8.42 प्रतिशत की गिरावट को दिखाता है।
जी.एस.टी., वैट और सी.एस.टी. को अगर इक_े पढ़ा जाए तो सितम्बर 2020 के दौरान कर की वसूली 1518.22 करोड़ रुपए थी, जब कि पिछले साल सितम्बर 2019 के दौरान यही वसूली 1307.28 करोड़ रुपए थी। इस तरह सितम्बर महीने साल 2020 की वसूली बीते वर्ष की अपेक्षा 210.94 करोड़ रुपए (16.14 प्रतिशत) बढ़ी।

About admin

Check Also

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पंजाब विधानसभा द्वारा कृषि कानूनों के खि़लाफ़ रोष मुज़ाहरों के दौरान जान गवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि

   *  विशेष सत्र के पहले दिन विधानसभा द्वारा मशहूर शख्सियतों को भी श्रद्धांजलि    चंडीगढ़ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share