Wednesday , June 16 2021
Breaking News








Home / उत्तर प्रदेश / हाथरस: मामले में स्मृति इरानी ने साधा राहुल गांधी पर निशाना

हाथरस: मामले में स्मृति इरानी ने साधा राहुल गांधी पर निशाना

उत्तर प्रदेश।(ब्यूरो) हाथरस गैंगरेप मामले में तेज होती राजनीति के बीच केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने कहा कि उन्हें यकीन है कि सीएम योगी आदित्यनाथ इस मामले में न्याय करेंगे। साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका हाथरस कूच करना सिर्फ अपनी राजनीति करना है। बता दें कि हाथरस गैंगरेप मामले में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति इरानी की चुप्पी पर विपक्ष लगातार सवाल उठा रहा था।

स्मृति इरानी ने वाराणसी में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, ‘राहुल गांधी राजनीति के लिए हमेशा प्रयासरत रहे हैं लेकिन राष्ट्रनीति में सफल नरेंद्र मोदी रहे हैं। मुझे लगता है कि स्वतंत्र देश ने जनता कांग्रेस के हथकंडों को भलीभांति समझा है। कोई भी नेता किसी भी विषय में राजनीति करना चाहता है तो मैं उसे रोक नहीं सकती है लेकिन जनता समझती है कि हाथरस में कूच उनकी अपनी राजनीति के लिए है न कि पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए।

‘एसआईटी की रिपोर्ट आने दीजिए’
हाथरस मामले को लेकर स्मृति इरानी ने कहा, ‘अपनी संवैधानिक मर्यादा के चलते मैं किसी प्रदेश के मामले में दखल नहीं देती लेकिन हां मैंने सीएम योगी आदित्यनाथ ने बात की है। मुख्यमंत्री ने एसआईटी का गठन किया है। कल एसपी के खिलाफ कार्रवाई हुई है। एसआईटी की रिपोर्ट आने दीजिए। उसके बाद जिन लोगों ने हस्तक्षेप किया या जिन लोगों ने पीड़िता को न्याय न मिल पाए इसकी साजिश की है, उनके खिलाफ योगी सख्त कार्रवाई करेंगे।

‘गहलोत को भी कॉल करें राहुल’
वहीं अशोक गहलोत के बयान पर स्मृति इरानी ने कहा कि ‘उनका यह कहना कि लड़की अपनी मर्जी से गई थी, यह बयान निंदनीय है। राहुल गांधी को गहलोत को भी कॉल करना चाहिए।

‘ऐसी कल्पना भी राष्ट्रदोह से कम नहीं’
स्मृति इरानी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कांग्रेस ने कल मेरे लिए विशेष टिप्पणी की कि संयुक्त राष्ट्र में मुझे अपने देश के खिलाफ बयान देना चाहिए था। मैं बताना चाहती हूं कि वहां मैं एक मंत्री के नाते नहीं बल्कि भारतीय के रूप में गई थी। कांग्रेस चाहती थी कि मैं अपने देश के खिलाफ बोलूं, मेरे लिए ऐसी कल्पना भी राष्ट्रदोह से कम नहीं। ये विपक्ष की अपनी मर्यादा है। जब से मैंने अमेठी में कूच किया था, मुझे पता था कि जीवन भर उनके निशाने पर रहूंगी।

About Yameen Shah

Check Also

पंजाब विधानसभा चुनाव: इस बार मुख्यमंत्री चेहरे के साथ लड़ेगी आम आदमी पार्टी, स्थानीय नेतृत्व को वरीयता

(रफतार न्यूज ब्यूरो)ः पंजाब में 2022 में होने वाले विधानभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share