Friday , September 25 2020
Breaking News
Home / दिल्ली / राहुल गांधी: कोरोना से अपनी जान खुद बचाइए ,पीएम मोदी मोर के साथ व्‍यस्‍त हैं!

राहुल गांधी: कोरोना से अपनी जान खुद बचाइए ,पीएम मोदी मोर के साथ व्‍यस्‍त हैं!

दिल्‍ली।(ब्यूरो) कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना वायरस महामारी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया है। संसद का मॉनसून सत्र शुरू होने से ठीक पहले उन्‍होंने कहा ‘कि कोरोना संक्रमण के आंकड़े इस हफ्ते 50 लाख और ऐक्टिव केस 10 लाख पार हो जाएंगे।’ वायनाड से लोकसभा सांसद ने एक ट्वीट में इसके लिए ‘अनियोजित लॉकडाउन’ को जिम्‍मेदार ठहराया। उन्‍होंने यह भी कहा कि यह लॉकडाउन पीएम मोदी ने अहंकार की वजह से किया। राहुल ने लिखा, “अनियोजित लॉकडाउन एक व्यक्ति के अहंकार की देन है जिससे कोरोना देशभर में फैल गया।” कांग्रेस नेता ने तंज कसते हुए कहा कि “मोदी सरकार ने कहा आत्मनिर्भर बनिए यानी अपनी जान खुद ही बचा लीजिए क्योंकि PM मोर के साथ व्यस्त हैं।

फिलहाल मां के साथ विदेश में हैं राहुल गांधी
राहुल गांधी संसद के मॉनसून सत्र के शुरुआती दिनों में हिस्‍सा नहीं लेंगे। वह अपनी मां और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ विदेश गए हैं। कांग्रेस की ओर से जारी बयान के अनुसार, सोनिया अपने सालाना मेडिकल चेकअप के लिए विदेश गई हैं। राहुल भी उनके साथ गए हैं। सोनिया (73) करीब दो हफ्ते विदेश में रह सकती हैं। ऐसे में वह संसद के आधे मॉनसून सत्र में हिस्सा नहीं ले पाएंगी। राहुल के एक-दो दिन में लौट आने की संभावना है।

प्रियंका के पहुंचते ही लौट आएंगे राहुल
विदेश जाने से पहले राहुल गांधी ने शुक्रवार को रक्षा संबंधी संसदीय समिति की बैठक में भाग लिया था। पार्टी के एक सूत्र ने न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से कहा कि राहुल उनकी बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के सोनिया के पास पहुंचने के बाद वापस लौट आएंगे। एक सूत्र ने कहा क‍ि संसद सत्र के शुरुआती दिनों में सोनिया व राहुल की अनुपस्थिति के बारे में वरिष्ठ नेताओं को जानकारी दी गई है।

कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने मॉनसून सत्र से पहले पत्रकारों से बात की। उन्‍होंने उन मुद्दों की जानकारी दी जो सदन में उनकी पार्टी उठाने वाली है। कृषि से जुड़े तीन अध्‍यादेशों की बात करते हुए रमेश ने कहा कि APMCs (कृषि मंडियों) को खत्‍म करने से व्‍यापारियों को फायदा होगा, किसानों को नहीं। रमेश ने आरोप लगाया कि सरकार फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के जरिए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर अनाज खरीदने के वादे से बचना चाह रही है। उन्‍होंने कहा कि लोकसभा में हमारे पास संख्‍या-बल नहीं है लेकिन हम पूरी कोशिश करेंगे कि ये बिल स्‍टैंडिंग कमिटी को रेफर किए जाएं। ये ऑर्डिनेंस – फार्मर्स प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फैलिसिटेशन) ऑर्डिनेंस, द फार्मर्स (एम्पॉवरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑन प्राइस अश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेस ऑर्डिनेंस और द इसेंशियल कमोडिटीज (अमेंडमेंट) ऑर्डिनेंस हैं।

लॉकडाउन को ‘गरीबों पर प्रहार’ बता चुके हैं राहुल
राहुल गांधी ने लगातार कोरोना वायरस महामारी की हैंडलिंग को लेकर केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। पिछले हफ्ते एक वीडियो में उन्‍होंने कहा था कि बिना किसी तैयारी के लॉकडाउन लगाने से भारतीय अर्थव्यवस्था को गहरा धक्का पहुंचा है। उन्‍होंने इसे ‘मोदी सरकार का असंगठित क्षेत्र पर तीसरा बड़ा हमला’ बताया था। राहुल गांधी ने कहा था कि लॉकडाउन से देश को कोई फायदा नहीं हुआ। उन्‍होंने कहा था कि ‘लॉकडाउन कोरोना पर नहीं बल्कि गरीबों पर आक्रमण था। यह देश की युवा शक्ति, मजदूर, किसान और छोटे दुकानदारों और असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों पर आक्रमण था।

About Yameen Shah

Check Also

चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाला शातिर गैंग दबोचा

UP। मुरादनगर पुलिस ने चेकिंग के दौरान चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share