Breaking News
Home / दिल्ली / भारत ने चीन को दी चेतावनी, सेना को हद में रखे

भारत ने चीन को दी चेतावनी, सेना को हद में रखे

दिल्ली।(ब्यूरो) पैंगोंग शो झील के दक्षिणी किनारे पर चीनी सेना की हिमाकत का माकूल जवाब देने के बाद अब भारत ने ड्रैगन को उसकी हरकतों से बाज आने को कहा है। भारत ने चीन को दू-टूक कहा है कि वह अपने फ्रंटलाइड सैनिकों को ‘अनुशासन और नियंत्रण’ में रखे।

भारत चौकन्ना, श्रृंगला, नरवणे की म्यांमार यात्रा स्थगित
इस बीच चीन की चाल के बाद भारत बेहद चौकन्ना हो गया है और विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला और आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे ने आज से शुरू होने वाली अपनी म्यांमार यात्रा को स्थगित कर दिया है। विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा कि विशेष प्रतिनिधियों संग बातचीत में सेना को विवादित इलाके से हटाने पर बनी सहमति का चीन ने खुले तौर पर उल्लंघन किया है। बयान में कहा गया है कि चीन ने केवल शनिवार रात तनाव को बढ़ाया है।

यूं ही नहीं बौखला रहा है चीन, 10 पॉइंट्स में समझिए भारत के जवानों ने क्यों मार ली है बाजी

विदेश मंत्रालय ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीनी विदेश मंत्री वेंग येई के बीच हुई बातचीत में सहमति बनी थी कि स्थिति का जिम्मेदार तरीके से समाधान किया जाएगा।

भारत को अब नहीं है चीन पर ऐतबार
सरकार का मानना है चीन वास्तव में इस मुद्दे का समाधान नहीं करना चाहता है और सुनियोजित तरीके से LAC के पश्चिमी इलाके पर निगाह गड़ाए हुए है। इससे बातचीत मुश्किल हो रही है। पैंगोंग शो के दक्षिणी किनारे हुए हालिया संघर्ष में निर्वासित तिब्बती फोर्स ‘स्पेशल फ्रांटियर फोर्स’ (SSF) में चीनी पक्ष को तगड़ा नुकसान पहुंचाया है और स्पांगुर गैप और चुशूल इलाके में भारत को बड़ी बढ़त दिला दी है।

SSF की चीनी सेना के खिलाफ सबसे बड़ी कार्रवाई’
मशहूर चीनी मामलों के विशेषज्ञ क्लाउड अर्पी ने कहा, ‘यह चीनियों के खिलाफ संभवत: SSF की सबसे बड़ी कार्रवाई थी। इसका असर तिब्बत से लेकर पेइचिंग तक पड़ना लाजिमी है।’ यह घटना चीनी नेताओं की तिब्बत पर हुई एक बड़ी बैठक के ठीक कुछ दिन बाद हुई है। लेफ्टिनेंट जनरल सुबर्तो साहा (रिटायर्ड) ने टीओआई से कहा, ‘चीनी सेना की यह उकसावे की कार्रवाई चीनी राष्ट्रपति शी जिनफिंग के राष्ट्रपति के आदेश को लागू करने के तहत की गई है।’

जिनपिंग के सुहाने सपने को पूरा करने में जुटी चीनी सेना?
उन्होंने कहा कि जिनफिंग का फोकस इस क्षेत्र में चीन की पकड़ मजबूत करने की है और भारत चीन के उकसावे वाली कार्रवाई के लिए पूरी तरह तैयार है। तिब्बत से सटे सभी थियेटर को इसके लिए भारत तैयार भी कर चुका है। उधर, चीनी सैनिक सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश से लगती सीमा के करीब अभ्यास के लिए जुट रहे हैं।

About admin

Check Also

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की हुई साप्ताहिक बैठक

गुरसराय, झाँसी(डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान)-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नगर इकाई गुरसरांय की पहली साप्ताहिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
gtag('config', 'G-F32HR3JE00');