Wednesday , September 30 2020
Breaking News
Home / देश / साधुओं की निर्मम हत्या की भी सीबीआई जाॅच की मांग हेतु ज्ञापन

साधुओं की निर्मम हत्या की भी सीबीआई जाॅच की मांग हेतु ज्ञापन

छिन्दवाड़ा (भगवानदीन साहू)- जिले के सामाजिक कार्यकर्ता भगवानदीन साहू के नेतृत्व में अन्य सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों ने मुख्य न्यायाधीश सुप्रीम कोर्ट, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं केन्द्रीय गृहमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौपकर साधुओं की निर्मम हत्या की भी सीबीआई जाॅच की मांग की, ज्ञापन में बताया कि, 19 अगस्त को माननीय सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपुत के प्रकरण की सीबीआई जाॅच के आदेष जारी किये। माननीय न्यायालय का आदेश स्वागत योग्य है। इसके पूर्व देश में कई हद्रय विदारक घटना घटी जिसमें पालघर के दो साधुओं की निर्मम हत्या, बुलंदशहर में साधु की हत्या तथा मुम्बई के रायता में साधु की हत्या जिनके पूरे सबूत सोशल मिडिया पर वायरल हुयें। पूरे देश ने देखा इन निर्मम हत्याओं के पीछे धर्मान्तरण वालों का हाथ था। पर किसी ने भी इन साधुओं की हत्या को गंभीरता से नहीं लिया।  सुशांत सिंह राजपुत और साधुओं के बीच तुलनात्मक अध्ययन करें तो ज्ञात होता है कि, सुशांत सिंह एक सेलीब्रिटी था, जो पश्चिमी संस्कृति से प्रभावित फिल्मी दूनिया से था। बोलीवूड ने देश, धर्म एवं संस्कृति को क्या दिया? अंग प्रदर्शन, अश्लीलता, अय्याशी, धर्मविरूध्द आचरण वहीं साधुओं ने अपना पूरा जीवन धर्म और सस्कृति के नाम बलिदान कर दिया। इन दोनों में कौन श्रेष्ठ है बताने की जरूरत नहीं है, ऐसा ही मामला संतश्री आशारामजी बापू का है। जिनका पूरा जीवन संस्कृति के लिए, धर्म के लिए समस्त मानव कल्याण के लिए रहा। उनकों जेल में रखकर यात्नाऐं दी जा रही है। सुप्रीम कोर्ट वयोबृध्द संत को जमानत भी नहीं दे रही हैं। देश में संतो एवं साधुओं के साथ दुराग्रह क्यो। सरकार को इस पर विचार कर उचित कार्यवाही करनी चाहिए, जिससे आम लोगों का विश्वास न्यायपालिका के प्रति सुदृड़ हो। सरकार देश  में धर्म, संस्कृति एवं रामराज्य की बाते करती है, वहीं राम के आदर्शों को नहीं अपनाती है। श्रीरामजी का पूरा जीवन साधु संतो की रक्षा एवं मार्गदर्शन और आशीर्वाद प्राप्त करने का रहा है। ज्ञापन देते समय साध्वी रेखा बहन, साध्वी प्रतिमा बहन, शिक्षाविद विशाल चउत्रे, आधुनिक चिंतक हर्शुल रघुवंशी, कुंबी समाज के युवा नेता अंकित ठाकरे, आई.टी.सेल के प्रभारी भूपेश पहाड़े, पवार समाज के प्रमुख हेमराज पटले, बजरंग दल के नितेश साहू, युवा सेवा संघ के नितिन दोईफोड़े, ओमप्रकाश डेहरिया, सोमेश चरपे मुख्य रूप से उपस्थित थे। 

About Sushil Parihar

Check Also

कोरोनाकाल में अब स्कूल बच्चों के लिए एक सपना

देश। पूरे भारत में कोरोना काल में ऐसी स्थिति बन गई ।कि लोगों को बचाने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share