Monday , September 21 2020
Breaking News
Home / दिल्ली / प्रॉपर्टी डीलर की हत्या की गुत्थी को सुलझी, दो गिरफ्तार, एक फरार

प्रॉपर्टी डीलर की हत्या की गुत्थी को सुलझी, दो गिरफ्तार, एक फरार

दिल्ली। बवाना थाना इलाके में बीते दिनों हुई प्रॉपर्टी डीलर की हत्या की गुत्थी को सुलझा ते हुए बवाना थाना पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि आरोपियों का तीसरा साथी औचंदी गांव का रहने वाला है जो अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है दिल्ली पुलिस लगातार आरोपियों के तीसरे साथी की तलाश में छापेमारी कर रही है आपको बता दें राजीव उर्फ राजू उर्फ काला जो कि एक प्रॉपर्टी डीलर का काम करता था जिसकी हत्या के आरोप में बवाना थाना पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मोहित वह दीनदयाल के रूप में हुई है मोहित और दीनदयाल बवाना के ही रहने वाले हैं आपको बता दें राजीव उर्फ राजू उर्फ काला पर कई मुकदमे दर्ज हैं.

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि राजीव के खिलाफ करीब एक दर्जन अपराधिक मामले दर्ज हैं. और इलाके का घोषित बदमाश था। शुरूआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि आपसी रंजिश के चलते वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर आरोपियों की पहचान करने की कोशिश कर रही है।

डीसीपी गौरव शर्मा ने बताया कि सोमवार सुबह करीब 11.30 बजे पुलिस को बवाना इलाके में एक युवक को गोली मारने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने देखा कि एक युवक खून से लथपथ वहां पड़ा हुआ था। पुलिस उसे लेकर अस्पताल गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक की शिनाख्त राजीव के रूप में हुई। पुलिस को पता चला कि राजीव के सिर में गोली मारी गई थी। राजीव इलाके में प्रोपर्टी डीलर का काम करता था। वह घोषित बदमाश था। उसके खिलाफ 12 अपराधिक मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। इसमें 2 हत्या, 2 डकैती, 2 हत्या की कोशिश, 5 सेंधमारी के अलावा अन्य कई मामले दर्ज हैं। राजीव घर में कुछ बदमाशों के साथ रहता था। घटना के वक्त वह अकेले था, तभी बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। आरोपी 2 से 3 रहे होगें, जो पहले से ही अपने साथ हथियार लाए होगें। फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

About Yameen Shah

Check Also

हरसिमरत की मौजूदगी में केंद्रीय कैबिनेट में ऑर्डीनैंस के पास होने पर प्रकाश सिंह बादल क्यों चुप रहे – सुखजिन्दर सिंह रंधावा

     *   कांग्रेसी मंत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री को अकाली दल की पीठ थपथपाने पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share