Breaking News








Home / पंजाब / ‘अंतरराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस’ मनाने के लिए ‘गो ग्रीन आर्गेनाइजेशन’ की सराहना

‘अंतरराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस’ मनाने के लिए ‘गो ग्रीन आर्गेनाइजेशन’ की सराहना

चंडीगढ़ (पीतांबर शर्मा) : पंजाब के वन मंत्री स. साधु सिंह धर्मसोत ने राज्य भर में कार्यरत समाज सेवीं संस्थाओं को वातावरण के संरक्षण के लिए आगे आने का न्योता दिया है। उन्होंने कहा कि वातावरण को हरा-भरा बनाने के लिए पौधे लगाने और पौधों के संरक्षण करने के लिए राज्य की हर इच्छुक संस्था का सहयोग लिया जायेगा।
स. धर्मसोत ने कहा कि सरकार की तरफ से हर उस संस्था का स्वागत है जो पंजाब सरकार का सहयोग करने की इच्छा रखती है। उन्होंने कहा कि राज्य के हर एक व्यक्ति को स्वैच्छा से पौधे लगाने और उनकी देखभाल करने के लिए प्रेरित करना आज के समय की मुख्य ज़रूरत है। राज्य भर में अधिक से अधिक पौधे लगाने पर ज़ोर देते हुये स. धर्मसोत ने कहा कि राज्य के हर निवासी के सहयोग से ही घर -घर हरियाली लाई जा सकती है।
स. धर्मसोत ने वन के समूह जि़ला अधिकारियों को जि़ला स्तर पर 26 जुलाई, 2020 को ‘मेरा वृक्ष दिवस’ मनाने के लिए अपील करते हुये कहा कि जि़ले की विभिन्न समाज सेवीं संस्थाओं के सहयोग से इस दिवस के मौके पर लोगों को पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया जाये। उन्होंने हर साल जुलाई के आखिऱी रविवार को मनाए जाते ‘अंतरराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस’ सम्बन्धी ’गो ग्रीन इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन’ की सराहना की।
जि़क्रयोग्य है कि शहीद भगत सिंह नगर से सम्बन्धित श्री अश्वनी जोशी ने ‘गो ग्रीन इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन’ नाम की जत्थेबंदी बना कर साल 2010 में पहली बार ‘अंतरराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस’ मनाना शुरू किया था। यह संस्था पिछले 11 सालों से अपने विलक्षण यत्नों से पंजाब निवासियों को वातावरण की संभाल के लिए स्वैच्छा से वृक्ष लगाने पर उनकी देखभाल के लिए प्रेरित करती आ रही है। इस संस्था ने साल 2010 में दूसरे अंतरराष्ट्रीय दिवसों की तजऱ् पर राज्य के नागरिकों को वृक्षों के साथ निजी तौर पर जोडऩे के लिए हर साल जुलाई महीने के आखिऱी रविवार को ‘अंतरराष्ट्रीय मेरा वृक्ष दिवस’ मनाना आरंभ किया था।

About admin

Check Also

मालिकाना हक मिलने से झुग्गी झोंपड़ी वाले 7700 परिवारों का अपने घर का सपना होगा साकारः मुख्य सचिव

चण्डीगढ़, 22 जून (पीतांबर शर्मा) : पंजाब सरकार ने मंगलवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share