Saturday , August 8 2020
Breaking News
Home / खेल / विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से 110 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन कल

विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से 110 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन कल

चंडीगढ़ (पीतांबर शर्मा) : – प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से देश और विदेश में लोगों के जीवन में एक नई क्रांति के रूप में उभरकर आए योग को मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा प्रदेश के युवाओं तक पहुंचाने के लिए 1000 गांवों में पार्क एवं व्यायामशालाएं खोलने की गई  शुरूआत की कड़ी में वे कल चंडीगढ़ से विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से 110 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन करेंगे।

         इस सम्बंध में विस्तृत जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला, जिनके पास विकास एवं पंचायत विभाग का प्रभार भी है, भी उपस्थित रहेंगे।  उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने वर्ष 2019 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पंचकूला से एक साथ 401 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन किया था और इसी कड़ी में उन्होंने हरियाणा योग परिषद का गठन भी किया है।

         प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने योग को हर व्यक्ति की जीवन शैली का हिस्सा बनाने के मकसद से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में खोली जा रही पार्क एवं व्यायामशालाओं में जिला परिषदों के माध्यम से योग वालंटियर नियुक्त करने की भी स्वीकृति प्रदान की है और इनकी नियुक्ति में उसी गांव या आसपास के गांवों के युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। इन योग वालंटियर्स की आयु-सीमा 18 से 35 वर्ष के बीच तथा शैक्षणिक योग्यता हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड या सीबीएसई से 10+2 पास होगी। इसके अलावा, इनके पास राष्टï्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त 16 संस्थानों में से किसी एक से योग में लेवल-1 या इसके समकक्ष कोर्स या किसी विश्वविद्यालय से एक वर्ष का डिप्लोमा उतीर्ण होना चाहिए। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, इन योग वालंटियर्स के कामकाज की निगरानी के लिए नियमित भर्ती होने तक आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत हर जिले में एक-एक आयुष कोच भी लगाए जाएंगे। इनके लिए शैक्षणिक योग्यता वही रहेगी, जो खेल एवं युवा मामले विभाग द्वारा योगा कोच के लिए निर्धारित की गई है।

         प्रवक्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से योग लोगों की जीवन शैली का हिस्सा बना और इस प्रकार से भारत की इस प्राचीन विधा को पुन: जीवित किया है तथा आज योग ने लोगों के स्वास्थ्य का कायाकल्प कर दिया है और अब तो प्रदेश का युवा भी योग को अपनी दैनिक जीवनचर्या का हिस्सा बना रहे हैं और पार्क एवं व्यायामशालाएं लोगों के योगाभ्यास के लिए एक उपयुक्त स्थल होगा।

         कोविड-19 के चलते लोगों की मानसिकता में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा इस वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ‘‘मेरा जीवन-मेरा योग’’ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता करवाई गई तथा घर पर रहकर ही अपने परिवार के साथ योग करने की अपील की गई थी, जिसे लोगों का भरपूर समर्थन भी मिला।

About admin

Check Also

रक्षाबधंन : माता लक्ष्मी ने सबसे पहले बांधी थी राजा बलि को राखी ; पढ़ें पौराणिक कथा

रफतार न्यूज डेस्क: आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी प्रकाशानंद जी महाराज कहते हैं कि पौराणिक मान्यताओं के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share