Thursday , September 24 2020
Breaking News
Home / दिल्ली / मुख्यमंत्री द्वारा शहीदों के 8 वारिसों की नियुक्ति को मंज़ूरी

मुख्यमंत्री द्वारा शहीदों के 8 वारिसों की नियुक्ति को मंज़ूरी

  चंडीगढ़ (रफ़्तार न्यूज़ ब्यूरो) :  पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने देश की रक्षा के ख़ातिर शहादत देने वाले शहीदों के बलिदानों को मान्यता देते हुए, उनके 8 वारिसों की नियुक्ति को मंज़ूरी दे दी है।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्य सचिव करन अवतार सिंह के नेतृत्व में बनी उच्चाधिकार समिति की सिफारिाशों पर यह नियुक्तियाँ की गई हैं।

पंजाब सरकार द्वारा राजस्व विभाग में बतौर तहसीलदार नियुक्त किए गए अमृतबीर सिंह के पिता इंस्पेक्टर रघबीर सिंह, जो कि अमृतसर जि़ले के सठियाला से सम्बन्धित थे और 1991 में सी.आर.पी.एफ में भर्ती हुए थे, छत्तीसगढ़ के जि़ला सुकमा में नक्सलियों के विरूद्ध लड़ते हुए 24 अप्रैल, 2017 को शहीद हो गए थे। वह उच्च कोटी के एथलीट थे और राष्ट्रीय स्तर पर उन्होंने कई पदक जीते थे।

तनवीर कौर को राजस्व विभाग में बतौर तहसीलदार नियुक्त किया गया है। तनवीर कौर के पति मेजर रवि इन्दर सिंह साल 2003 में एन.डी.ए खडक़वासला में दाखि़ल हुए थे और 2007 में सिगनल कोर में वह कमिश्ंड अफ़सर बने थे। उनकी जम्मू-कश्मीर के विद्रोह वाले क्षेत्रों में भी दो बार तैनाती रही थी। मेजर रवि इन्दर सिंह दक्षिणी सुडान में यू.एन मिशन में सेवाएं देते हुए शहीद हो गए थे और बहादुरी से ड्यूटी निभाने और बलिदान देने, के सत्कार के तौर पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा उनको ‘डेग हैमरस्कॉल्ड मेडल’ अवॉर्ड दिया गया था।

नियुक्त होने वालों में श्रीमती अकविन्दर कौर बतौर नायब तहसीलदार, आस्था गर्ग बतौर आबकारी और कर अफ़सर, मलकीत कौर बतौर लाइब्रेरी रीस्टोरर, तनवीर कौर बतौर तहसीलदार, अमनदीप सुरक्षा सेवाएं कल्याण विभाग में बतौर क्लर्क, गुरपाल सिंह लोक निर्माण विभाग (इलैक्ट्रिकल) में बतौर जूनियर इंजीनियर, राधा रानी बतौर सहकारी सभाओं में इंस्पेक्टर और अमृतबीर सिंह बतौर तहसीलदार शामिल हैं।

आस्था गर्ग को बतौर आबकारी और कराधान अधिकारी नियुक्त किया गया। उसके पति फ्लाइट लैफ्टिनैंट मोहित गर्ग पटियाला जि़ले के समाना से सम्बन्धित थे। पी.पी.एस नाभा से अपनी पढ़ाई पूरी करने के उपरांत उन्होंने 2009 में एन.डी.ए खडकवासला में दाखि़ला लिया था और 2014 में भारतीय वायु सेना में बतौर पायलट कमिशन हासिल किया था। इस अधिकारी की उस वक्त मौत हो गई थी जब ए.एन 32 जहाज़, जिसको वह चला रहे थे, अरुणाचल प्रदेश के उच्च पहाड़ी क्षेत्रों में हादसे का शिकार हो गया था।

कांस्टेबल (जी.डी) मुखत्यार सिंह फिऱोज़पुर जि़ले के गाँव फत्तूवाला से सम्बन्धित थे और वह साल 2000 में सीमा सुरक्षा बल में भर्ती हुए थे। वह 15 जुलाई, 2018 को छत्तीसगढ़ की सब-डिवीजऩ पखांजुर में नक्सलियों के साथ लड़ाई के दौरान शहीद हो गए थे। उनके बलिदान को देखते हुए मलकीत कौर को शिक्षा विभाग में बतौर लाइब्रेरी रीस्टोरर नियुक्ति दी गई है।

गुरपाल सिंह, जो कि शहीद राईफलमैन सुखविन्दर सिंह के भाई हैं, को लोक निर्माण विभाग (इलैक्ट्रिकल) में बतौर जूनियर इंजीनियर नियुक्त किया गया है। राईफलमैन सुखविन्दर सिंह का जन्म जि़ला होशियारपुर के गाँव फतेहपुर में हुआ था और वह 2017 में जे.ए.के राईफलज़ में भर्ती हुए थे। वह 16 दिसंबर 2019 को जम्मू-कश्मीर के सुन्दरबनी क्षेत्र में सीमा पर लड़ाई के दौरान शहीद हो गए थे।

राधा रानी, जो कि गरनेडियर संजय कुमार की बहन हैं, को रजिस्ट्रार सहकारी सभाओं में बतौर इंस्पेक्टर नियुक्त किया गया है। संजय कुमार होशियारपुर जि़ले के गाँव राजवाल से सम्बन्धित थे और उन्होंने 10 अक्तूबर 2012 को 5 गरेनेडियरज़ में ज्वाइन किया था। हथियारों के साथ फाइरिंग अभ्यास करते हुए 9 अप्रैल, 2019 को उनकी मौत हो गई थी।

गन्नर लेख राज का जन्म फिऱोज़पुर जि़ले के गाँव शाजराना में 1990 में हुआ था। उन्होंने साल 2011 में 332 मीडियम रैंजीमैंट ज्वाइन की थी। वह 7 अगस्त, 2018 को अरुणाचल प्रदेश में सीमा रेखा पर गश्त के दौरान शहीद हो गए थे। शहीद के भाई अमनदीप को रक्षा सेवाएं कल्याण विभाग पंजाब में बतौर क्लर्क नियुक्त किया गया है।

शहीद नायक मनविन्दर सिंह अमृतसर जि़ले के गाँव घोनेवाल से सम्बन्धित थे और उन्होंने 2008 में 3 पंजाब को ज्वाइन किया था। वह नवंबर 18, 2019 को सियाचिन ग्लेशियर के उच्च क्षेत्रों में ड्यूटी के दौरान शहीद हो गए थे। इस बलिदान को मान्यता देते हुए शहीद नायक की पत्नी अकविन्दर  कौर को राजस्व विभाग में बतौर नायब तहसीलदार नियुक्त किया गया है।

About admin

Check Also

चीन-पाकिस्तान और ईरान के साथ युद्धाभ्यास कर रहा रूस, अलर्ट पर अमेरिका

रूस ने सोमवार से काकेशस-2020 रणनीतिक युद्धाभ्यास को शुरू किया है। इस अभ्यास में रूसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share