Breaking News








Home / दुनिया / जम्मू-कश्मीर : पुलवामा में सुरक्षाबलों ने नाकाम किया 2019 जैसा हमला, कार में था 20 किलो IED

जम्मू-कश्मीर : पुलवामा में सुरक्षाबलों ने नाकाम किया 2019 जैसा हमला, कार में था 20 किलो IED

हाइलाइट्स
*  पुलवामा में 2019 जैसे हमले की एक और साजिश नाकाम, सेना ने IED से भरी कार को उड़ाया

*  जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों ने एक बड़े कार बम हमला होने से पहले ही रोक लिया.

*  कार को सुरक्षाबलों ने रोका उसमें 20 किलो से अधिक आईईडी रखा हुआ था.

*  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले की बड़ी साजिश को सेना ने किया नाकाम

*  पुलवामा के राजपोरा इलाके में आईईडी से भरी सैंट्रो कार सेना ने की जब्त

*  खुफिया इनपुट्स के बाद सीआरपीएफ, पुलिस और सेना के जॉइंट ऑपरेशन में मिली कार

*  2019 में पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमले के लिए हुआ था ऐसी ही कार का इस्तेमाल

श्रीनगर (रफतार न्यूज इंट ब्यूरो) : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Attack) जिले में सुरक्षाबलों पर सैंट्रो कार में IED भरकर हमले की बड़ी साजिश को नाकाम किया गया। सुरक्षाबलों ने पुलवामा (Pulwama Attack) के आइनगुंड इलाके में एक सैंट्रो कार में ले जा रही IED को बरामद किया है। जिस सैंट्रो कार में यह आईईडी मिली है, उसपर लगी नंबर प्लेट पर कठुआ का नंबर लिखा हुआ है। सैंट्रो में विस्फोटक इतनी भारी मात्रा में लदा था कि सुरक्षाबलों को उसे उड़ाना पड़ा।

शुरुआती Inputs के मुताबिक, सुरक्षाबलों ने पुलवामा के राजपोरा इलाके में स्थित आइनगुंड से इस सैंट्रो कार को जब्त किया है। इस कार में बड़ी मात्रा में IED बरामद हुई। एजेंसियों को शक है कि इन्हें सुरक्षाबलों के किसी काफिले पर हमले के लिए यहां पर लाया गया था।
पुलिस के इंस्पेक्टर जनरल विजय कुमार ने कहा, ”सुरक्षा बलों ने गोलियां चलाईं, लेकिन ड्राइवर फरार हो गया. हालांकि आईईडी से भरे कार को छोड़कर गया.” उन्होंने आगे कहा, ”हमें संभावित हमले के बारे में खुफिया जानकारी मिली थी. हम कल से ही IED के साथ एक वाहन की तलाश कर रहे थे.”
IED के साथ कार को बाद में बम निरोधक दस्ते द्वारा नष्ट कर दिया गया. भारी विस्फोट की वजह से इलाके में कुछ घरों को नुकसान पहुंचा. अधिकारी ने बताया कि यह आर्मी, पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्सेस के साथ एक संयुक्त ऑपरेशन था.
सैंट्रो कार पर जेके-08 1426 नंबर की प्लेट लगी है, जो कि कठुआ का नंबर है। जम्मू संभाग का कठुआ इलाका सीमांत क्षेत्र है और यहां के हीरानगर इलाके को पाकिस्तानी घुसपैठ के लिहाज से बेहद संवेदनशील माना जाता है। ऐसे में इस कार में विस्फोटकों के मिलने के पीछे किसी पाकिस्तानी साजिश का शक भी जताया जा रहा है।
पुलवामा के हमले में ऐसी ही कार का इस्तेमाल : बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को CRPF के काफिले पर बड़ा हमला हुआ था। पुलवामा के अवंतिपोरा में हुए इस हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हुए थे। इस हमले में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने IED से भरी एक ऐसी ही कार का इस्तेमाल किया था, जिसे CRPF जवानों के काफिले की बस से लड़ा दिया था।

About admin

Check Also

अफगानिस्तान में बढ़ती हिंसा, चीन ने नागरिकों को दिया तत्काल युद्धग्रस्त देश छोड़ने का आदेश

पेइचिंग  (रफतार न्यूज ब्यूरो)ः अमेरिकी सैनिकों की वापसी से पहले अफगानिस्तान (Afghanistan) में बढ़ती हिंसा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share