Thursday , September 24 2020
Breaking News
Home / सम्पादकीय / खट्टर तथा ‘संयुक्त राज्य अमेरिका भारत व्यापार परिषद की ऑनलाइन वीडियो कान्फ्रैंसिंग

खट्टर तथा ‘संयुक्त राज्य अमेरिका भारत व्यापार परिषद की ऑनलाइन वीडियो कान्फ्रैंसिंग

चंडीगढ़  (शिव नारायण जांगड़ा) : – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल तथा ‘संयुक्त राज्य अमेरिका भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी)’ की चेयरपर्सन सुश्री निशा बिस्वाल की अध्यक्षता में एक ऑनलाइन वीडियो कान्फ्रैंसिंग हुई जिसमें घरेलू स्वास्थ्य देखभाल को बढ़ावा देने, ऑटोमोबाइल घटक विनिर्माण को एयरोस्पेस मशीनरी विनिर्माण में परिवर्तन करने और 5-जी, एज, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और गवर्नेंस तथा इंडस्ट्रियल मैन्युफैक्चरिंग में ब्लॉक-चेन जैसे क्षेत्रों की पहचान की गई जिनमें आगे बढऩे के काफी अवसर हैं। इस बैठक में बोइंग, कोका कोला, बैक्सटर, वॉलमार्ट, स्ट्राइकर, मास्टर कार्ड, ट्रॉय कॉर्पोरेशन, जीई और इंटेल जैसी 60 से अधिक प्रमुख अमेरिकी कंपनियों के सीईओ/शीर्ष प्रबंधन प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पिछले दो महीनों से हम में से प्रत्येक ने एक ऐसे जीवन का अनुभव किया है जिसमें ‘लोकल’ और ‘ग्लोबल’ के बीच का अंतर पूरी तरह से गायब हो गया है। हम सभी ने केवल आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं के साथ घर से काम किया है और देखा है कि आर्थिक जीवन धीमा हो गया है। उन्होंने कहा कि हमारा जीवन बिना यात्रा, दिनचर्या और मनोरंजन रहित हो गया है।
उन्होंने कहा कि सुरक्षित रहने और अपने प्रियजनों को सुरक्षित रखने की संतुष्टि है। उन्होंने कहा कि अगर यह वायरस 20 साल पहले आता तो मानवीय अस्तित्व को बहुत ज्यादा खतरा हो सकता था। मुख्यमंत्री ने कहा, इसलिए मैं आप सभी को विश्व भर में हासिल किए गए अविश्वसनीय रूप से सकारात्मक सार्वजनिक स्वास्थ्य परिणामों के लिए बधाई देता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन उपायों के प्रतिकूल मानव, सामाजिक, राजकोषीय और आर्थिक प्रभाव हर दिन सामने आए हैं। अन्य सभी सरकारों की तरह हमने इन्हें कम करने की पूरी कोशिश की। हमने हरियाणा में किसी को भूखा नहीं सोने दिया और कोरोना वायरस के प्रसार को रोककर रखा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाऊन अवधि में हमने कई शासन-सुधारों को शुरू कर उनका प्रभावी ढंग से उपयोग किया है। उन्होंने बताया कि मार्च से मई तक हमने 3 नए विभाग बनाए जिनमें एमएसएमई, हाऊसिंग फोर ऑल और सिटीजन रिसोर्स इन्फोरमेशन शामिल हैं। इसके अलावा, हमारी सरकार ने ज्यादा कीमती भूमि की चिंता को दूर करने के लिए लीज के आधार पर विनिर्माण इकाइयों के लिए भूमि आवंटन का एक नया निवेशक अनुकूल तत्व जोड़ा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने हमारे सकल घरेलू उत्पाद के 10 प्रतिशत के बराबर आर्थिक प्रोत्साहन की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि हम वृद्धिशील सुधारों को नहीं देख रहे हैं बल्कि एक क्वांटम-लीप लगा रहे हैं। उन्होंने इस पैकेज के भूमि, श्रम, तरलता और कानून समेत चार पहलुओं को रखा। उन्होंने आश्वासन दिया कि इन पहलुओं में से प्रत्येक पर हरियाणा आने वाले दिनों, हफ्तों और महीनों में भारत के सभी राज्यों में सबसे आगे रहेगा।
इस अवसर पर कान्फ्रैंस के प्रतिभागियों ने हरियाणा सरकार और उसके अधिकारियों द्वारा राज्य में विशेष रूप से गुरुग्राम और फरीदाबाद में कोविड-19 की स्थिति के प्रबंधन में किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने हरियाणा में अपने आगे के निवेश के लिए अपने प्रोजेक्ट प्रस्तावों और विचारों को साझा किया।
मुख्यमंत्री ने एचएसआईआईडीसी के एमडी श्री अनुराग अग्रवाल को वच्र्युवल-वेब-डेस्क के माध्यम से उक्त कंपनियों से व्यक्तिगत तौर पर नियमित रूप से आगे की कार्रवाई के लिए संपर्क बनाए रखने की जिम्मेवारी सौंपी। उन्होंने सुश्री निशा बिस्वाल को ‘संयुक्त राज्य अमेरिका भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी)’ की ओर से किसी व्यक्ति को नियुक्त करने का सुझाव भी दिया। उन्होंने आश्वासन दिया कि आज की चर्चा के परिणामस्वरूप हरियाणा में आने वाले सभी निवेशों को हरियाणा सरकार द्वारा सुविधा प्रदान की जाएगी।
यूएसआईबीसी की चेयरपर्सन सुश्री निशा बिस्वाल ने कहा कि कोविड-19 के बाद दुनिया भर में अपने उत्पादन में विविधता लाने की इच्छुक अमेरिकी कंपनियों के विनिर्माण अड्डों की स्थापना के लिए हरियाणा सबसे उपयुक्त है।
इस अवसर पर बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव और एचएसआईआईडीसी के अध्यक्ष श्री राजेश खुल्लर, उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव उद्योग श्री ए.के. सिंह और प्रबंध निदेशक एचएसआईआईडीसी श्री अनुराग अग्रवाल शामिल थे।
वीडियो कॉन्फ्रैंस में बोइंग के सलिल गुप्ते, महेश पलासीकर, जीई मैन्युफैक्चरिंग, प्रेसिडेंट और सीईओ साउथ एशिया, नितिन एट्रोली, केपीएमजी (सलाहकार) आधिकारिक प्रबंध भागीदार, निवृति राय, कंट्री हेड, इंटेल इंडिया, विवेक वशिष्ठ, लीड ऑपरेशंस आईबीएम ग्लोबल प्रोसेस सर्विसेज, नीलिमा द्विवेदी, माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन ग्रुप हेड, एड्रियन क्रिएगमैन, ट्रॉय कॉर्पोरेशन, निदेशक, उत्पाद पंजीकरण, मीनाक्षी, स्ट्राइकर, उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, अश्मिता सेठी यूटीसी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, अध्यक्ष और देश प्रमुख, अनाम शर्मा, कोका-कोला इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, सौरभ सिंह, नोकिया सॉल्यूशंस एंड नेटवक्र्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, राकेश स्वामी, जीई हेल्थकेयर, सीनियर डायरेक्टर, आनंद विजय झा, वॉलमार्ट, उपाध्यक्ष और प्रमुख – सार्वजनिक नीति और संचार, रविंदर डांग महाप्रबंधक, बैक्सटर इंडिया, श्रीनाथ वेंकटेश, अध्यक्ष, डेनहर, भारत, मीनाक्षी नेवतिया, स्ट्राइकर वीपी और एमडी, पंकज भारद्वाज एवरी डेनिसन (विनिर्माण) वीपी एंड जनरल मैनेजर, पलाश रॉय चौधरी स्मार्टई (ई-वाहन) के अध्यक्ष और एमडी शामिल हुए।

About admin

Check Also

भारतीय चुनाव आयोग द्वारा कोविड 19 के दौरान मतदान करवाने संबंधी ‘मुद्दे, चुनौतियां और सावधानियां’ विषयों पर वैबिनार का आयोजन

     *     दुनिया भर के लोकतांत्रिक देशों ने इकठ्ठा होकर कोविड 19 के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share