Wednesday , September 30 2020
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / चीन मुझे दोबारा राष्ट्रपति बनने से रोकना चाहता है, इसके लिए वो कुछ भी करेगा: डोनाल्ड ट्रम्प

चीन मुझे दोबारा राष्ट्रपति बनने से रोकना चाहता है, इसके लिए वो कुछ भी करेगा: डोनाल्ड ट्रम्प

दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर चीन पर सीधा आरोप लगाया है। ट्रम्प ने कहा कि चीन उन्हें अमेरिका के अगले राष्ट्रपति चुनाव में हराना चाहता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि चीन उन्हें दोबारा राष्ट्रपति बनने से रोकना चाहता है। उन्होंने न्यूज एजेंसी रायटर्स को दिए इंटरव्यू में दावा किया कि चीन नहीं चाहता कि वे नवंबर में फिर से अमेरिका के राष्ट्रपति चुने जाएं। वह मुझे रोकने के लिए कुछ भी करेगा। चीन का कोरोना से निपटने का तरीका इस बात का सबूत है। ट्रम्प ने कहा कि चीन चाहता है कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन राष्ट्रपति चुनाव जीतें। इससे अमेरिका ने फिलहाल चीन पर व्यापार समेत अन्य बातों को लेकर जो दबाव बनाए हैं वे कम होंगे।
ट्रम्प हमेशा महामारी के लिए चीन पर आरोप लगा रहे हैं। उनका मानना है कि चीन को इस महामारी के बारे में दुनिया को पहले बताना चाहिए था। अभी तक कोरोना से अमेरिका में 60 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। इससे अमेरिका की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ा है।
जब ट्रम्प से पूछा गया कि क्या वह चीन के लिए कर्ज माफी और टैरिफ में छूट वापस लेने पर सोच रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि बहुत सारी ऐसी चीजें हैं जो मैं कर सकता हूं। हम देख रहे हैं कि क्या हुआ है? चीनी अधिकारी ऐसा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि चीन निर्दोष है। वे इसके लिए लगातार अपने प्रचार तंत्र का इस्तेमाल कर रहे हैं।
इससे पहले भी ट्रम्प चीन पर कई बार नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। 21 अप्रैल को व्हाइट हाउस की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा था, ‘‘हमने चीन से काफी समय पहले बात की थी। हम वहां जाना चाहते थे। यह देखना चाहते थे कि वहां क्या हो रहा है? मैं चीन के साथ कारोबारी समझौते से बेहद खुश था। फिर हमें इस संक्रमण के बारे में पता चला और तब से मैं बिल्कुल खुश नहीं हूं। ट्रम्प ने कहा कि वे कोरोनावायरस की जांच के लिए एक्सपर्ट की एक टीम चीन भेजना चाहते हैं। एक दिन पहले ही उन्होंने कहा था कि अगर चीन ने जानबूझकर मामले को छिपाने की कोशिश की है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी। चीन के वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी से कोरोना निकला या नहीं इसका पता कराने के लिए अमेरिका ने जांच भी शुरू की है ताकि सच का पता लगाया जा सके।

About admin

Check Also

कोरोनाकाल में अब स्कूल बच्चों के लिए एक सपना

देश। पूरे भारत में कोरोना काल में ऐसी स्थिति बन गई ।कि लोगों को बचाने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share