Breaking News








Home / Breaking News / राशन कार्ड का रंग नहीं व्यक्ति की जरूरत देखे सरकार – कुमारी सैलजा

राशन कार्ड का रंग नहीं व्यक्ति की जरूरत देखे सरकार – कुमारी सैलजा

चंडीगढ़ ।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा ने राज्य सरकार को घेरते हुए हमला बोला है । कुमारी सैलजा ने महामारी से लड़ाई में जुटे योद्धाओं के जीवन को खतरे में डालने का आरोप भी जड़ा । सैलजा ने कहा कि महामारी से बचाव के लिए जरूरी एन-95 मास्क, पीपीई किट कोरोना योद्धाओं को उपलब्ध नहीं कराए जा रहे। सफाई व्यवस्था की जिम्मेदारी संभाल रहे सफाई कर्मचारियों को सुरक्षा संसाधनों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। पलवल में एक सफाई कर्मचारी मोंटी की सफाई कार्य के दौरान हुई मौत का जिक्र करते हुए कहा कि लापरवाही की जांच कराकर दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाए। मृतक के परिजनों को एक करोड़ का मुआवजा दिया जाए।25 हजार से ज्यादा लोगों को सर्विलांस पर रखा गया है, जिनमें से अभी तक केवल 2800 लोगों के ही टेस्ट के नतीजे सामने आए हैं। वहीं, डबवाली के विधायक अमित सिहाग ने कहा कि राशन कार्ड का रंग नहीं, बल्कि व्यक्ति की जरूरत को देखते हुए राशन मुहैया करवाना चाहिए। जो बीपीएल (पीले कार्ड) वर्ष 2014 के बाद लाखों की संख्या में काटे गए हैं, उन्हें लॉकडाउन के चलने तक अस्थाई रूप में चालू कर देना चाहिए, ताकि जरूरतमंद परिवारों को राशन आसानी से मिल सके।उन्होंने कहा कि ऐसे बहुत से गरीब परिवार हैं जिनका किसी प्रकार का राशन कार्ड नहीं बना हुआ है। उनके लिए भी अस्थाई राशन कार्ड बनाने चाहिए। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी दर 31 फीसद हो गई है। अगर इस और जल्द ध्यान न दिया गया तो कहीं बेरोजगारी भुखमरी का रूप धारण न कर ले।

About admin

Check Also

हरियाणा: चार माह से लापता किसान बिजेंद्र को लेकर प्रदर्शन, जींद-चंडीगढ़ मार्ग बंद करने की चेतावनी

(रफतार न्यूज ब्यूरो)ः किसान आंदोलन में भाग लेने 26 जनवरी को दिल्ली गया कंडेला गांव …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share