Tuesday , September 22 2020
Breaking News
Home / Breaking News / गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे दो नवजातों की मौत मोटरसाईकिल पर अस्पताल लेकर आए थे

गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे दो नवजातों की मौत मोटरसाईकिल पर अस्पताल लेकर आए थे

कैथल

कैथल में एक बेहद ही दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां जिला सिविल अस्पताल में डिलीवरी के दौरान महिला सहित गर्भ में पल रहे उसके जुड़वा बच्चों की मौत हो गई। महिला की मौत से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। चिकित्सकों ने सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेज दिए। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों की पुष्टि हो पाएगी।बता दें कि जिला जींद के गांव संडील निवासी सजिमा पत्नी सलीम को प्रसव पीड़ा होने के बाद जेठ विनोद कुमार, आशा वर्कर मीरा और गांव के ही श्यामलाल के साथ मोटरसाइकिल पर गर्भवती महिला को बैठाकर कलायत सिविल अस्पताल लाया। यहां महिला की हालत को देखते हुए कार्यरत स्टाफ ने उसे जिला सिविल अस्पताल भेज दिया।यहां आते-आते महिला को सांस लेने में दिक्कत होने पर तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई। गंभीर हालत को देखते हुए इमरजेंसी में ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।स्वजनों ने चिकित्सकों को बताया कि डिलीवरी समय पूरा होने के बाद ही प्रसव पीड़ा होने पर स्वजन महिला को अस्पताल लेकर आए थे।
महिला की यह दूसरी डिलीवरी थी। स्वजनों ने यह भी बताया कि महिला को तीन-चार दिनों से खांसी की दिक्कत थी।महिला अपने पीछे तीन साल का बेटा छोड़ गई। वहीं संडील गांव की सरपंच सुषमा रानी ने बताया कि गर्भवती महिला को पेट में दर्द होने पर गांव की ही आशा वर्कर जांच के लिए अस्पताल लेकर गई थी, जहां तबीयत बिगडऩे पर उसकी मौत हो गई।सैंपल जांच के लिए भेजे गएसिविल अस्पताल के पीएमओ डॉ. ओमप्रकाश ने बताया कि डिलीवरी से पहले ही महिला की मौत हो गई। इसके कारणों को जानने के लिए सैंपल जांच के लिए सोनीपत लैब भेजे गए हैं। रिपोर्ट आने के मौत के कारणों की जानकारी मिलने पर शव का पोस्टमार्टम होगा।

About admin

Check Also

मुख्य सचिव द्वारा कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधों के लिए जिला अधिकारियों को कोशिशें और तेज़ करने की हिदायतें

    *   मृत्युदर घटाने के लिए कोरोना इलाज की सहूलतों में और सुधार करने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share