Wednesday , June 16 2021
Breaking News








Home / Breaking News / गेहूँ की कटाई के लिए कंबाईन की समुचित व्यवस्था की जाए – कुलदीप बिश्नोई

गेहूँ की कटाई के लिए कंबाईन की समुचित व्यवस्था की जाए – कुलदीप बिश्नोई

हिसार  ।

कांग्रेस केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य और आदमपुर के विधायक कुलदीप बिश्नोई ने मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर से मांग की है कि किसानों की गेहूं और सरसों की फसल की कटाई के सीजन को ध्यान में रखते हुए विशेषकर गेहूं की कटाई के लिए कम्बाइन की समुचित व्यवस्था की जाए ताकि किसानों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि सरसों और गेहूं की फसल खेतों में पक्की खड़ी है,जिसकी कटाई की व्यवस्था करने की तत्काल जरूरत है। उन्होंने आशंका व्यक्त की है कि हरियाणा प्रदेश से श्रमिकों के पलायन के कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि इस उद्देश्य के लिए अनेक किसान उन मजदूरों पर निर्भर रहते हैं। बिश्नोई ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोविड-19 की समस्या को ध्यान में रखते हुए ही देश के लोगों के जीवन की रक्षा करने के उद्देश्य से ही समूचे देश में लाकडाउन घोषित किया गया है। अब क्योंकि खेतों में सरसों और गेहूं की फसल पूरी तरह से तैयार है, लेकिन समस्या है किसानों को अब मजदूरों और मशीनरी की जरूरत है। ऐसी स्थिति में किसानों को सरकार से बहुत अधिक आशा और उम्मीद है कि वह उन्हें हर संभव मदद प्रदान करेगी ताकि इस समस्या का समाधान तत्काल हो सके। उन्होंने सरकार से पुन: मांग की है कि किसानों की गेहूं और सरसों की फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिए व्यापक प्रबंध किए जाएं। उन्होंने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारियों से आग्रह किया है कि वह खराब मौसम को ध्यान में रखते किसानों की फसल का एक एक दाना सुरक्षित रखने के उद्देश्य से अग्रिम तोर पर त्रिपाल की समुचित व्यवस्था करें ताकि किसानों को ऐसी अपरिहार्य स्थिति में राहत मिल सके। उन्होंने श्रमिकों तथा मनरेगा योजना के तहत काम करने वाले दहाडीदार श्रमिकों को 3000 रुपए प्रति माह की दर से वित्तीय सहायता प्रदान की जाए ताकि वे ऐसी कठिन परिस्थितियों में जो कोविड -19 के कारण पैदा हुई है में अपना जीवन यापन भली भांति कर सकें। कुलदीप बिश्नोई ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि प्रदेश में गरीबी की सीमा रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले राशन कार्ड धारकों को तीन महीने का मुफ्त राशन प्रदान किया जाए। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने प्रदेश से श्रमिकों के पलायन को रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए और यही कारण है कि विशेषकर गुरुग्राम और औद्योगिक नगरी फरीदाबाद से श्रमिकों का पलायन जारी है। उन्होंने मुख्यमंत्री जी से आग्रह किया है कि इन गरीब श्रमिकों को खाना और रहने की समुचित व्यवस्था प्रदान की जाए ताकि इनके पलायन को प्रभावी ढंग से रोका जा सके। उन्होंने यह भी मांग की है कि इन गरीब श्रमिकों का तीन महीनों का किराया सरकार द्वारा वहन किया जाए ताकि इन लोगों को राहत मिल सके। कुलदीप बिश्नोई ने लोगों से आग्रह किया कि वह इस संकट की घड़ी में एक दूसरे की दिल खोलकर भरपूर सहायता करें। उन्होंने कहा कि इस विपदा की घड़ी में कांग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को भरपूर समर्थन और सहयोग प्रदान किया है ताकि देश के लोगों की मुसीबतों को कुछ हद तक कम किया जा सके। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि वे सरकार द्वारा समय समय पर जारी किए गए आदेशों की पालना करें। क्योंकि जो भी गाइड लाइन केन्द्र सरकार द्वारा जारी की गई है वह आम आदमी के हितों को ध्यान में रखते हुए ही की गई है ।इ नका पालन करने से ही हमारा देश उन्नति और प्रगति के पथ पर अग्रसर हो सकेगा।

About admin

Check Also

किसान आंदोलन: बातचीत को सरकार नहीं तैयार, कुंडली बॉर्डर पर बढ़ने लगे किसान, चढ़ूनी बोले-कुछ बड़ा करेंगे

(रफतार न्यूज ब्यूरो)ः कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले साढ़े छह माह से आंदोलन कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share