Breaking News






Home / Breaking News / फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाने पर हरियाणा के सीएम और कृषि मंत्री ने पीएम का जताया आभार

फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाने पर हरियाणा के सीएम और कृषि मंत्री ने पीएम का जताया आभार

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने साल 2019-20 की खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के लिए गए निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि यह इस बात का परिचायक है कि सरकार वास्तव में किसान हितैषी सरकार है और किसान हित उसकी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है।

कैबिनेट कमेटी के निर्णय पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह निर्णय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के किसानों की आय वर्ष 2022 तक दोगुनी करने के लक्ष्य को पूरा करेगा। उन्होंने कहा कि हरियाणा के बाजरा, कपास, धान, सूरजमुखी, मक्का व अरहर की फसल बोने वाले किसानों को विशेष लाभ होगा, जो प्रदेश की खरीफ की मुख्य फसलें हैं।

उन्होंने कहा कि बाजरे के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 50 रुपये प्रति क्विंटल, धान में 65 रुपये प्रति क्विंटल, कपास के मूल्य में 100-105 रुपये प्रति क्विंटल, सूरजमुखी के मूल्य में 262 रुपये प्रति क्विंटल, मक्का के मूल्य में 60 रुपये प्रति क्विंटल तथा अरहर में 125 रुपये प्रति क्विंटल तथा मूंग के मूल्य में 75 रुपये प्रति क्विंटल की दर से बढ़ौतरी होगी। उन्होंने कहा कि यह सरकार निश्चित रूप से ऐसी सरकार है जो अपने किसानों का ख्याल रखती है।

फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने पर कृषि मंत्री धनखड़ ने भी जताया आभार……

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हर वर्ष फसलों के मूल्यों में 1.5 गुणा बढ़ौतरी का स्थायी फार्मूला लागू किया है और इससे किसानों की आय हर वर्ष बढऩे निश्चित है।

धनखड़ कहा कि बाजरे का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1950 रुपये से बढ़ाकर 2000 रुपये प्रति क्विंटल, धान (कॉमन) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1750 रुपये से बढ़ाकर 1815 रुपये प्रति क्विंटल, धान (ग्रेड ए) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1770 रुपये से बढ़ाकर 1835 रुपये प्रति क्विंटल, कपास (मध्यम) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5150 रुपये से बढ़ाकर 5255 रुपये प्रति क्विंटल, कपास (लांग स्टैप्ल) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5450 रुपये से बढ़ाकर 5550 रुपये प्रति क्विंटल किया है। इसी प्रकार, सूरजमुखी के न्यूनतम समर्थन मूल्य 5388 रुपये से बढ़ाकर 5650 रुपये प्रति क्विंटल, मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1700 रुपये से बढ़ाकर 1760 रुपये प्रति क्विंटल, अरहर का न्यूनतम समर्थन मूल्य 5675 रुपये से बढ़ाकर 5800 रुपये प्रति क्विंटल की दर से बढ़ाए गए हैं।
कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ने कहा इसी प्रकार, ज्वार, रागी, मूंग, उड़द, मूंगफली, सोयाबीन, तिल और निगरसीड के न्यूनतम समर्थन मूल्य भी बढ़ाएं गए हैं।

About admin

Check Also

नवजोत सिद्धू पंजाब कांग्रेस के प्रधान होंगे, 4 कार्यकारी प्रधान भी होंगे नियुक्त … 

दिल्ली, 17 जुलाई  (रफ्तार न्यूज संवाददाता)  : सूत्रों के हवाले से ख़बर आई है कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share