Saturday , September 26 2020
Breaking News
Home / हरियाणा / हरियाणा के मुख्यमंत्री ने लोगों से की अपील ‘जिंदगी चुनो तम्बाकू नहीं!’

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने लोगों से की अपील ‘जिंदगी चुनो तम्बाकू नहीं!’

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने केन्द्रीय मंत्रीमंडल में प्रदेश के नवनिर्वाचित तीन सांसदों को राज्य मंत्री के रूप में शामिल किए जाने पर प्रसन्नता जाहिर की है। मुख्यमंत्री ने गुरुग्राम के सांसद राव इंद्रजीत सिंह, फरीदाबाद के सांसद श्री कृष्णपाल गुर्जर व अंबाला के सांसद श्री रत्तन लाल कटारिया को केन्द्रीय मंत्रीमंडल में शामिल किए जाने पर अपनी ओर से हार्दिक शुभकामनाएं दी है।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में केन्द्र सरकार की यह लगातार दूसरी पारी है जिसमें हरियाणा के तीन सांसदों को केन्द्रीय मंत्रीमंडल में शामिल किया गया है।

 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर सीएम की अपील….

 

वहीं मुख्यमंत्री ने आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर राज्यवासियों से अपील करते हुए कहा कि- ‘‘आइए विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर हम संकल्प लें कि न नशा करेंगे, न नशा करने देंगे’’। मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘‘जन सामान्य में तंबाकू सेवन, धूम्रपान का बढ़ता चलन समाज को अंधकार की ओर धकेलता जा रहा है, जिसका एकमात्र उपाय जागरूकता ही है’’। उन्होंने यह भी अपील की कि ‘‘जिंदगी चुनो तम्बाकू नहीं!’’

 

मुख्यमंत्री ने उद्यमियों से क्या की अपील…..

 

सीएम ने उद्यमियों से समाज के उत्थान, कल्याण व विकास में सक्रिय भूमिका अदा किए जाने की अपेक्षा करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार की व्यवसाय अनुकूल नीतियों के परिणामस्वरूप ही ईज-ऑफ-डूईंग बिजनेस की दृष्टि से हरियाणा प्रदेश देश में 14वें स्थान से उन्नति कर तीसरे स्थान पर पहुंच सका है।

 

दिल्ली में कार्य कर रहे हरियाणा के उद्यमियों के साथ निवेश, उद्यमियों को दी जा रही सेवाओं- सुविधाओं, उद्योग व्यवसाय जगत की समाज के प्रति जिम्मेदारी व अन्य संबधित विषयों के संदर्भ में दिल्ली में आयोजित विचार-विमर्श बैठक के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर भारतीय राज्यों में ईज-ऑफ-डूईंग बिजनेस की दृष्टि से  हरियाणा प्रदेश प्रथम स्थान पर है।

 

मुख्यमंत्री ने उद्यमियों से हरियाणा में निवेश किए जाने का आह्वान भी किया। उद्यमियों ने हरियाणा सरकार द्वारा उद्यमियों को दी जा रही सुविधाओं विशेषकर समयबद्ध रूप से विभिन्न प्रकार के अनापत्ति प्रमाण-पत्र जारी किए जाने की प्रणाली, विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन आवेदन प्रणालियाँ व पर्याप्त विद्युत आपूर्ति की सुविधा की प्रशंसा भी की। इस दौरान उद्यमियों द्वारा हरियाणा में माल एवं सेवा कर की संग्रहण प्रक्रिया के और अधिक सरलीकरण बारे दिए गए सुझावों पर विचार-विमर्श किए जाने का हरियाणा के मुख्यमंत्री ने आश्वासन भी दिया।

 

About admin

Check Also

पूर्व वी.एच.पी. अध्यक्ष अशोक सिंघल के थे दो सपने : राम मंदिर निर्माण और आशाराम बापू की रिहाई

यह तो सब जानते ही हैं कि श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर-निर्माण में विश्व हिन्दू परिषद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share