Tuesday , September 29 2020
Breaking News
Home / हरियाणा / जननायक जनता पार्टी ने पंचायती राज प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष किये नियुक्त

जननायक जनता पार्टी ने पंचायती राज प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष किये नियुक्त

जननायक जनता पार्टी ने प्रदेश के 21 जिलों में जिला पार्षदों और सरपंचों को पंचायती राज प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष का पद दिया है। साथ ही 9 अन्य वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों को प्रकोष्ठ की राज्य कार्यकारिणी में रखा गया है। जेजेपी के पंचायती राज प्रकोष्ठ के प्रभारी जगरूप सिंह गगसीना और प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप गिल ने बताया कि टीम में शामिल किए गए सभी लोग लम्बे समय से पंचायती राज की विभिन्न संस्थाओं के जरिये आम लोगों से जुड़े हुए हैं।

 

प्रदीप गिल ने बताया कि पार्टी ने पंचायती राज प्रकोष्ठ की राज्य कार्यकारिणी में कुलदीप मलिक और सतीश पहलवान को वरिष्ठ उपाध्यक्ष बनाया है जबकि दिलबाग गोराया को महासचिव, अरुण पूनिया को प्रचार सचिव और रजनीश शर्मा को संगठन सचिव का पद दिया गया है। साथ ही रमेश चौहान को उपाध्यक्ष व रामकिशन सांगवान, मोहित अहरवां और राजेंद्र महोती को प्रकोष्ठ में सचिव पद दिया गया है।

 

इसके साथ ही पार्टी ने पंचायती राज प्रकोष्ठ में पंचकूला जिले में बलदेव राणा, यमुनानगर जिले में अनिल संधू, अंबाला में दलबीर पूनिया, कुरुक्षेत्र में संदीप लाड़ा और कैथल में राममेहर शर्मा को जिलाध्यक्ष बनाया है। वहीं करनाल में जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी सतीश बल्हारा को, पानीपत में सुभाष शर्मा को, सोनीपत में संदीप राणा को, रोहतक में अशोक फरमाना को और झज्जर में संजय कबलाना को यह जिम्मेदारी दी गई है।

 

प्रदीप गिल ने बताया कि रेवाड़ी में प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष प्रवीन सरपंच, भिवानी में सुरेंद्र किलका, जींद में वेद भनवाला पहलवान, हिसार में रामप्रसाद गढ़वाल और सिरसा में गुरलाल सिंह होंगे। गिल ने यह भी बताया कि पलवल जिले में भूपेंद्र, गुरुग्राम में राकेश, दादरी में राजेश सरपंच, फतेहाबाद में कृष्ण नांगली, नूंह में आमीन बिछोर और महेंद्रगढ़ में विरेंद्र सरपंच को जेजेपी पंचायती राज प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष बनाया गया है। प्रदीप गिल ने कहा कि फरीदाबाद में प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष की घोषणा जल्द ही की जाएगी।

 

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि मौजूदा सरकार ने पंचायती रोज प्रकोष्ठ में सुधार के नाम पर कई तरह की पाबंदियां लगाने का काम किया है और इन संस्थाओं को मजबूत और स्वायत्त बनाने की दिशा में कोई नया कदम नहीं उठाया। प्रकोष्ठ के प्रभारी जगरूप सिंह ने कहा कि पार्टी ने जिन 30 लोगों को इस प्रकोष्ठ में पद दिए हैं, वे सभी पूरे पंचायती राज सिस्टम को अच्छे से समझते हैं और प्रदेश में जेजेपी की सरकार बनने पर इन्हीं लोगों के सुझावों के आधार पर इस विभाग की नीतियां बनाई जाएंगी। प्रदेशाध्यक्ष निशान ने कहा कि जेजेपी के ज्यादातर प्रकोष्ठों की टीम अब घोषित हो चुकी है और सभी टीमों ने सक्रियता के साथ अपना काम तेज कर दिया है।

 

About admin

Check Also

पूर्व वी.एच.पी. अध्यक्ष अशोक सिंघल के थे दो सपने : राम मंदिर निर्माण और आशाराम बापू की रिहाई

यह तो सब जानते ही हैं कि श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर-निर्माण में विश्व हिन्दू परिषद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share