Wednesday , September 30 2020
Breaking News
Home / हरियाणा / पुलिस वालों को पहले पता नहीं चलेगा कि उनकी ड्यूटी किस पोलिंग स्टेशन पर है।

पुलिस वालों को पहले पता नहीं चलेगा कि उनकी ड्यूटी किस पोलिंग स्टेशन पर है।

हरियाणा में लोकसभा आम चुनाव-2019 के दौरान पहली बार पेालिंग स्टेशन पर पुलिसकर्मियों की तैनाती एक व्यवस्थित व गोपनीय प्रणाली के अंतर्गत रैन्डम्ली की जाएगी। इसके लिए एनआईसी द्वारा एक सॉफ्टवेयर भी तैयार किया जाएगा।
हरियाणा के मुख्य निवार्चन अधिकारी राजीव रंजन ने ये जानकारी हरियाणा पुलिस, बीएसएफ और सीआरपीएफ के नोडल अधिकारियों की बैठक के दौरान दी। बैठक में एनआईसी के अधिकारी भी मौजूद थे।
राजीव रंजन ने कहा कि इस चुनाव में एनआईसी की ओर से एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है, जिसमें पुलिसकर्मियों के नाम व पते के साथ पूर्ण डाटा तैयार होगा और पोलिंग स्टेशन पर पुलिसकर्मियों की तैनाती रैन्डम्ली की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया के कारण किसी भी पुलिसकर्मी को पहले से ये नहीं पता होगा कि उसकी तैनाती किस पोलिंग स्टेशन पर की जानी है।
उन्होंने कहा कि सॉफ्टवेयर में दर्ज पुलिसकर्मियों का डाटा पूरी तरह से सुरक्षित और गोपनीय होगा और इस तरह पुलिसकर्मियों की तैनाती से सिस्टम में और अधिक पारदर्शिता आएगी।

About admin

Check Also

पूर्व वी.एच.पी. अध्यक्ष अशोक सिंघल के थे दो सपने : राम मंदिर निर्माण और आशाराम बापू की रिहाई

यह तो सब जानते ही हैं कि श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर-निर्माण में विश्व हिन्दू परिषद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share