Monday , September 21 2020
Breaking News
Home / Breaking News / जेजेपी और ‘आप’ के बीच गठबंधन का कभी भी हो सकता है एलान

जेजेपी और ‘आप’ के बीच गठबंधन का कभी भी हो सकता है एलान

जननायक जनता पार्टी ने अपने संगठन में 8 नए प्रकोष्ठ बनाने का फैसला लिया है। साथ ही सभी जिलों में सभी प्रकोष्ठों के प्रभारी और पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए 28 फरवरी का लक्ष्य रखा  है। जेजेपी में आध्यात्मिक-सांस्कृतिक प्रकोष्ठ , आईटी सैल ,  अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ, श्रमिक प्रकोष्ठ, कर्मचारी प्रकोष्ठ, लीगल प्रकोष्ठ, मेडिकल प्रकोष्ठ और भूतपूर्व सैनिक प्रकोष्ठों का गठन किया जाएगा। साथ ही आगामी लोकसभा चुनाव के संदर्भ में मेनिफेस्टो कमेटी, कैम्पेन कमेटी, इलेक्शन मैनेजमेंट कमेटी और प्रोग्राम मैनेजमेंट कमेटी बनाने का फैसला लिया गया है।
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पार्टी की कोर समिति और कार्यकारिणी ने समान विचारधारा वाले दल के साथ गठबंधन को भी हरी झंडी दे दी है और इस बारे में अंतिम फैसला पार्टी संरक्षक डॉ अजय सिंह चौटाला पर छोड़ा है। दुष्यंत ने कहा कि पार्टी की विचारधारा वाले संगठन जननायक सेवा दल के कार्यकर्ताओं को महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां दी जा रही है और उनसे आगामी चुनावों में उम्मीदवार तय करते वक्त भी उनकी सलाह ली जाएगी। दुष्यंत ने कहा कि जननायक सेवा दल के कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी ये भी है कि वे अपने क्षेत्र के लोकप्रिय और प्रभावशाली लोगों को पार्टी से जोड़ने के लिए सिफारिश भेजें।
इनेलो सुप्रीमों ओमप्रकाश चौटाला के मीडिया में बयानों पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हमारा झगड़ा जमीन-जायदाद का नहीं, राजनीतिक विचारधारा का है। उन्होंने कहा कि 17 नवम्बर को जींद में अजय सिंह चौटाला ने भी स्पष्ट कर दिया था कि लड़ाई झंडे, डंडे या किसी संपत्ति की नहीं है बल्कि राजनीतिक विचारधारा अलग होने की है।
दरअसल दुष्यंत चौटाला की कोशिश है कि संगठन का काम पहले पूरा किया जाये, इसलिये वो लगातार संगठन में नये पदाधिकारियों की घोषणा कर रहे हैं। हालांकि जो पदाधिकारी बनाये जा रहे हैं उनमें से ज्यादातर इनेलो के ही कार्यकर्ता या नेता है। वहीं कुल मिलाकर जेजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव को लेकर गठबंधन की कभी भी घोषणा हो सकती है।

About admin

Check Also

सरकार के कृषि विधेयकों को लेकर केंद्र की राष्‍ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन

चंडीगढ़।(ब्यूरो) सरकार के कृषि विधेयकों को लेकर केंद्र की राष्‍ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share